• Hindi News
  • Tech auto
  • Truecaller Brings A Call Reason Feature To Let You Know Why Someone Is Calling You

ट्रूकॉलर का नया फीचर:आपके पास क्यों आ रहा किसी नंबर से कॉल, पहले ही पता चल जाएगा; जानिए ऐप के 3 नए फीचर के बारे में

नई दिल्लीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ट्रूकॉलर के मुताबिक ऐप में तीन नए फीचर को जोड़ा गया है - Dainik Bhaskar
ट्रूकॉलर के मुताबिक ऐप में तीन नए फीचर को जोड़ा गया है
  • ट्रूकॉलर पर तीन नए फीचर कॉल रीजन, शेड्यूल SMS और SMS ट्रांसलेशन मिलेंगे
  • इन सभी फीचर्स को सबसे पहले एंड्रॉयड यूजर्स के लिए रोलआउट किया जा रहा है

आपके पास किसी अनजान नंबर से कॉल किस काम के लिए आ रहा है, इस बात का पता चल जाए तब कॉल रिसीव करना ज्यादा आसान हो जाएगा। अब कॉलर आईडी का काम करने वाला ट्रूकॉलर (Truecaller) ऐप ऐसा ही फीचर लेकर आ रहा है। कंपनी इस फीचर को एंड्रॉयड यूजर्स के लिए ग्लोबल रोलआउट कर रही है। बता दें कि ट्रूकॉलर ऐप की मदद से उन कॉल के बारे में भी पता चल जाता है, जो कॉन्टैक्ट नंबर फोन में सेव नहीं होते।

Truecaller पर मिलेंगे 3 नए फीचर
ट्रूकॉलर द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, अब इस ऐप में तीन नए फीचर को जोड़ा गया है। इसमें पहला कॉल रीजन, दूसरा शेड्यूल SMS और तीसरा SMS ट्रांसलेशन शामिल है। आइए इन सभी फीचर्स के बारे में जानते हैं...

1. कॉल रीजन : इस फीचर की मदद से यूजर्स कॉल करने की वजह पहले ही सेट कर पाएंगे। ताकि कॉल रिसीव करने वाले यूजर को कॉल रिसीव करने से पहले उसकी वजह का पता चल जाए। यानी ये कॉल पर्सनल, बिजनेस या फिर अर्जेंट रीजन के साथ किया गया है। इस फीचर की मदद से कॉल के दौरान एक नोट भी भेजा जा सकेगा, जिसमें इसकी वजह लिखी होगी। ऐसे में जिन लोगों के पास नए नंबर से कॉल आ रहा है उनके लिए ये फीचर काफी मददगार होगा।

2. शेड्यूल SMS : इस फीचर की मदद से यूजर्स किसी इवेंट, मीटिंग या फिर अन्य वजह से किए जाने वाले मैसेज रिमाइंडर को शेड्यूल कर पाएंगे। इसका फीचर का इस्तेमाल करने के लिए यूजर को मैसेज भेजते वक्त डेट और टाइम भी सेट करना होगा। ऐसा करने से आपके द्वारा तय किए गए टाइम पर SMS सेंड हो जाएगा।

3. SMS ट्रांसलेशन : इस फीचर की मदद से किसी अन्य भाषा में मिलने वाले मैसेज को आप अपनी भाषा में ट्रांसलेट करके पढ़ पाएंगे। यह फीचर गूगल की ML Kit से पावर्ड है, ऐसे में सभी मैसेज फोन पर ही लोकली प्रोसेस और ट्रांसलेट किए जाएंगे। यह फीचर 59 भाषाओं को सपोर्ट करता है, जिसमें आठ भारतीय भाषाएं हैं। इस फीचर उन लोगों की काफी मदद मिलेगी जिन्हें अंग्रेजी में मैसेज आते रहते हैं, लेकिन यूजर उन मैसेज को पढ़ नहीं पाते।