दाम कम होने से आम लोगों तक पहुंचे वियरेबल्स:डिजिटल वॉच और ईयर बड्स जैसे गैजेट की बिक्री 66% बढ़ी, दोगुनी से भी ज्यादा हुई सेल

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

साल की पहली छमाही के दौरान घरेलू बाजार में डिजिटल वॉच, स्मार्टवॉच, रिस्ट बैंड और ईयर बड्स जैसे वियरेबल्स की बिक्री 65.8% बढ़ी है। इस दौरान कुल 3.8 करोड़ वियरेबल्स बिके। खास बात यह रही कि अप्रैल-जून तिमाही में वियरेबल्स की बिक्री दोगुने से भी ज्यादा 113% बढ़कर 2.39 करोड़ हो गई।

नई लॉन्चिंग और डिस्काउंट से वियरेबल्स की बिक्री बढ़ी
वियरेबल डिवाइस ट्रैकर इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन (आईडीसी) की रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय बाजार में वियरेबल्स की बिक्री बढ़ने का एक कारण नई लॉन्चिंग, डिस्काउंट और आक्रामक मार्केटिंग रणनीति है। लेकिन दाम घटना इसका सबसे बड़ा कारण है। दरअसल बीते कुछ वर्षों से डिजिटल वॉच, स्मार्टवॉच, रिस्ट बैंड्स और ईयर बड्स जैसे प्रोडक्ट्स के दाम लगातार घट रहे हैं। इससे ये आम लोगों की पहुंच में आ गए हैं।

देश में वियरेबल्स की बिक्री 9 करोड़ से ज्यादा होगी
बुधवार को आई रिपोर्ट के मुताबिक, जून तिमाही में वियरेबल्स के औसत बिक्री मूल्य (एएसपी) में 7.2% तक की कमी आई है। वॉच कैटेगरी में एंट्री लेवल डिवाइस के एएसपी में 29% तक की कमी दर्ज की गई है। इनकी औसत कीमत बीते साल के 5,000 रुपए से घटकर 3,500 रुपए रह गई है। आईडीसी के मुताबिक, इस साल देश में वियरेबल्स की बिक्री रिकॉर्ड 9 करोड़ का आंकड़ा पार करने की उम्मीद है।

आईडीसी इंडिया की रिसर्च मैनेजर उपासना जोशी के मुताबिक, ब्रांड्स के बीच प्रतिस्पर्धा के चलते दाम लगातार कम होते जा रहे हैं। इसके अलावा ब्लूटूथ कॉलिंग, बड़ी स्क्रीन और एमोलेड डिस्प्ले जैसे फीचर जो कभी मिड/हाई रेंज में आते थे, वे भी अब कम दामों पर उपलब्ध हैं। इसके चलते पहली बार के यूजर और गैजेट अपग्रेड करने वाले इनके प्रति आकर्षित हो रहे हैं।

कस्बों, गांवों तक पहुंची वियरेबल्स की डिमांड
आईडीसी इंडिया, साउथ एशिया और एएनजेड के एवीपी नवकेंदर सिंह ने बताया कि वियरेबल्स की डिमांड अब शहरी इलाकों से निकलकर कस्बों और गांवों तक पहुंच गई है। अफोर्डेबलिटी यानी किफायती प्रोडक्ट्स और मार्केटिंग की आक्रामक रणनीति इसकी वजह है।