चुनाव / राजस्थान, छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने भाजपा को सोशल मीडिया वॉर में भी पीछे छोड़ा, एमपी में कांटे की टक्कर रही



in rajasthan and chhattisgarh congress left bjp behind in social media war
X
in rajasthan and chhattisgarh congress left bjp behind in social media war

  • फेसबुक पर पॉप्युलेरिटी के डेटा सामने आए, इसमें लाइक्स, कमेंट, शेयर्स के डेटा शामिल
  • राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की पोस्ट को भाजपा के मुकाबले ज्यादा एंगेजमेंट मिले
  • भाजपा के एक सूत्र ने दावा कि कांग्रेस ने दो राज्यों में डिजाइन बॉक्स नाम की कंपनी को हायर किया

Dec 17, 2018, 12:44 PM IST

गैजेट डेस्क. पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के दौरान दोनों बड़ी राष्ट्रीय पार्टियों भाजपा और कांग्रेस की आईटी टीमों के बीच भी वर्चुअल स्पेस में मुकाबला हुआ था। इसके डेटा सामने आ गए हैं। हैरानी की बात यह है कि भाजपा की आईटी टीम को इस बार कांग्रेस ने कड़ी टक्कर दी। फेसबुक पोस्ट पॉप्युलेरिटी के डेटा बता रहे हैं कि यह मुकाबला भाजपा के लिए भारी था। छत्तीसगढ़ और राजस्थान में तो कांग्रेस ने सोशल मीडिया स्पेस में विरोधियों को काफी पीछे छोड़ दिया था। 

 

दोनों पार्टियों के ग्राफिक और कंटेंट पोस्ट और वीडियो पोस्ट को मिले लाइक्स, कमेंट्स और शेयर्स के एंगेजमेंट से साफ है कि कांग्रेस को वर्चुअल स्पेस में ज्यादा अट्रैक्शन मिला। कैम्पेन का पीक पीरियड 3 से लेकर 19 नवंबर था। 

भाजपा ने कहा- कांग्रेस ने प्राइवेट कंपनी को हायर किया

  1. मध्य प्रदेश में भाजपा की आईटी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर रही। मध्य प्रदेश में भाजपा को 18 लाख 50 हजार से अधिक एंगेजमेंट मिले। कांग्रेस इस राज्य में 13 लाख 55 हजार लोगों को ही एंगेज कर पाई। 

  2. दिलचस्प बात यह कि इस दौरान भाजपा ने 97 वीडियो पोस्ट किए और उन्हें 15 लाख से ज्यादा व्यू मिले, जबकि कांग्रेस के 118 वीडियो को 12 लाख व्यू ही मिले। यानी भाजपा के वीडियो पोस्ट्स कहीं अधिक आकर्षक थे। 

  3. पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की आईटी टीम सक्रिय रही। यहां कांग्रेस जीतबो छत्तीसगढ़ और जनघोषणा जैसे अलग अभियान से सोशल मीडिया पर मजबूत रही। 

  4. यहां भाजपा के 8 लाख 92 हजार एंगेजमेंट के मुकाबले कांग्रेस को दस लाख से अधिक एंगेजमेंट मिले। जीतबो छत्तीसगढ़ अभियान के 11 लाख से अधिक एंगेजमेंट अलग से रहे। 

  5. राजस्थान में कांग्रेस के 25 लाख एंगेजमेंट्स के मुकाबले भाजपा के 18 लाख 91 हजार एंगेजमेंट दिखे। राजस्थान में कांग्रेस के वीडियो पोस्ट भाजपा से कहीं अधिक देखे गए। कांग्रेस ने 51 वीडियो शेयर किए, जिन्हें 24 लाख व्यू मिले। भाजपा के 90 वीडियो को 11 लाख से अधिक व्यू मिले। 

  1. भाजपा के एक सूत्र ने दावा किया कि इन तीनों राज्यों में पार्टी ने अपनी आईटी टीम के बूते पर सोशल अभियान चलाया जो सौ फीसदी आर्गेनिक था। इसमें मैनिपुलेशन की कोई गुंजाइश नहीं थी। जबकि कांग्रेस ने कम से कम दो राज्यों छत्तीसगढ़ और राजस्थान में डिजाइन बॉक्स्ड नाम की एक प्राइवेट कंपनी को यह काम आउटसोर्स किया था। 

  2. इस कम्पनी के सूत्रधार नरेश अरोड़ा से सम्पर्क किया गया तो उन्होंने डाटा मैनिपुलेशन पर कोई सीधी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया। उनका कहना था कि कांग्रेस के प्रचार से जुड़े किसी भी मामले में पार्टी के प्रवक्ता ही कोई प्रतिक्रिया दे सकते हैं। हालांकि, उन्होंने कहा कि सारे डाटा पब्लिक डोमेन में हैं और इसके लिए किसी सफाई की जरूरत नहीं है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना