ब्रिटेन / यहां हर साल होता है 450 करोड़ रु. का रोमांस फ्रॉड, शिकार होने वालों में 60% महिलाएं



450 crore rupees lost to romance fraud in britain
X
450 crore rupees lost to romance fraud in britain

  • ब्रिटेन के पुलिस रिपोर्टिंग सेंटर एक्शन फ्रॉड ने वेलेंटाइन डे से पहले आंकड़े जारी किए
  • अपराधी डेटिंग ऐप या सोशल नेटवर्किंग साइट पर फेक प्रोफाइल बनाकर किसी के साथ रिलेशनशिप में आते हैं
  • 2018 में रोमांस फ्रॉड से जुड़ी 4,555 रिपोर्ट दर्ज जो 2017 की तुलना में 27% ज्यादा है

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2019, 10:01 AM IST

गैजेट डेस्क. ब्रिटेन के पुलिस रिपोर्टिंग सेंटर 'एक्शन फ्रॉड' ने वेलेंटाइन डे से पहले प्यार की तलाश में जुटे लोगों को सावधान करने के लिए रोचक लेकिन डराने वाले आंकड़े जारी किए हैं। इन आंकड़ों के मुताबिक देश में सालाना 5 करोड़ पाउंड (करीब 450 करोड़ रुपए) का रोमांस फ्रॉड होता है। रोमांस फ्रॉड का मतलब है कि डेटिंग एप या सोशल नेटवर्किंग वेबसाइटों पर फेक प्रोफाइल बनाकर किसी के साथ रिलेशनशिप बनाना और फिर धोखे से उसका पैसा लेकर चंपत हो जाना। 

60% महिलाएं रोमांस फ्रॉड की शिकार

  1. पीड़ित को लगता है कि उसे परफेक्ट पार्टनर मिल गया है। लेकिन, दूसरी ओर मौजूद अपराधी उसका विश्वास जीतकर पैसे ऐंठता है या इतनी निजी जानकारी हासिल कर लेता है जिससे पीड़ित की आइडेंटिटी चुराई जा सके।

  2. नए आंकड़ों के मुताबिक 2018 में ब्रिटेन में रोमांस फ्रॉड से जुड़ी 4,555 रिपोर्ट दर्ज कराई गईं। इन सभी मामलों में पीड़ितों को कुल 450 करोड़ रुपए का चूना लगा। 2017 की तुलना में यह 27% ज्यादा है। रिपोर्ट के मुताबिक रोमांस फ्रॉड का शिकार होने वालों में 63% महिलाएं शामिल हैं। इनकी औसत उम्र 50 साल है। 

  3. पीड़ितों में 42% ने माना कि धन का नुकसान झेलने के साथ-साथ उनके स्वास्थ्य पर भी बुरा असर हुआ। एक्शन फ्रॉड के मुताबिक ये आंकड़े वास्तविक पैमाने को जाहिर नहीं करते हैं। शर्म और बेइज्जती की आशंका में कई पीड़ित रोमांस फ्रॉड की शिकायत दर्ज नहीं कराते। 

पुलिस जागरूकता प्रोग्राम चलाती है, लेकिन पैसे वापस नहीं दिला पाती

  1. एक्शन फ्रॉड की टीम डेट सेफ नाम के ग्रुप के साथ मिलकर ब्रिटेन के लोगों को ऐसे मामलों से बचाने के लिए जागरूकता प्रोग्राम भी चला रही है। डेट सेफ ग्रुप में लंदन पुलिस, गेट सेफ ऑनलाइन, मेट्रोपोलिटन पुलिस, एज यूके, विक्टिम सपोर्ट जैसे ऑर्गेनाइजेशन भी शामिल हैं। 

  2. पुलिस एक्शन फ्रॉड मामलों में पीड़ित की मदद की पूरी कोशिश करती है लेकिन वह आम तौर पर लुट चुका पैसा वापस नहीं करा पाती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि अपराधी आम तौर पर अपनी असल पहचान कभी जाहिर नहीं करते हैं। वे डेटिंग एप या सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट इस्तेमाल करने के लिए अपने आईपी को मास्क कर लेते हैं।

ऑनलाइन रोमांस फ्रॉड से बचने के लिए पांच जरूरी हिदायतें

  1. ऑनलाइन रिलेशनशिप में जल्दी न करें। प्रोफाइल की जगह व्यक्ति को जानने की कोशिश करें। खूब सवाल पूछें। 

  2. प्रोफाइल में जो नाम और फोटो उपलब्ध है उसे सर्च इंजन पर सर्च कर देखें। 

  3. दोस्तों और परिवार के साथ अपनी डेटिंग पसंद के बारे में बात करें। उनसे सावधान रहें जो अपने बारे में कुछ नहीं बताते। 

  4. ऑनलाइन मिले लोगों को पैसे न भेजें और न ही अपनी बैंकिंग डिटेल उसके साथ साझा करें। 

  5. पहली मुलाकात किसी पब्लिक प्लेस पर ही करें। किसी अन्य को इस मुलाकात के बारे में जरूर बता कर रखें। खतरा महसूस होने पर पुलिस कोे तत्काल सूचित करें।  

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना