तकनीक / इंसानों की तरह चलता है 75 किलो वजनी रोबोट 'एटलस', बॉम्ब स्क्वॉड और रेस्क्यू मिशन में करेगा मदद



X

  • LIDAR तकनीक की मदद से एटलस अपने आसपास की जगह का मैप तैयार करता है
  • कदम आगे बढ़ाने के लिए रोबोट पाथ प्लानिंग एल्गोरिदम का इस्तेमाल करता है

Dainik Bhaskar

May 12, 2019, 04:35 PM IST

गैजेट डेस्क. फोरिडा स्थित इंस्टीट्यूट फॉर ह्यूमन एंड मशीन कोग्निशन (IHMC) के शोधकर्ताओं ने ऐसा रोबोट तैयार किया है जो मुश्किल समय में इंसानों की तरह काम करता है। शोधकर्ताओं ने इसे एटलस नाम दिया गया है। हाल ही में इसका वीडियो जारी हुआ है, जिसमें इसे पतले रास्ते पर चलते हुए देखा जा सकता है। गौर करने वाली बात यह है कि पतले रास्तों पर चलते समय इंसानों की तरह अपने वजन को बैलेंस कर रहा है साथ ही सोच समझकर कदम आगे बढ़ा रहा है। इसके डेवलपर्स का कहना है कि इसे बॉम्ब स्कॉड और रिस्क्यू मिशन में इस्तेमाल किया जा सकता है।

 

s

 

LIDAR तकनीक का किया इस्तेमाल

  1. वीडियो में देखा जा सकता है कि एटलस रोबोट पतले ब्लॉक पर चलते समय बड़ी चतुराई से बैलेंस बना रहा है, जैसा इंसान करते हैं। यह LIDAR तकनीक की मदद से संभव हो पाया है। इस तकनीक में रोबोट लेजर की मदद से चीजों की दूरी को मापता है और फिर कदम रखता है।

  2. LIDAR (लाइट डिटेक्शन एंड रेंजिंग तकनीक) की मदद से एटलस अपने आसपास की जगह का मैप तैयार कर लेता है जहां उसे चलना होता है। रोबोट पाथ प्लानिंग एल्गोरिदम के इस्तेमाल कदम आगे बढ़ाता है।

  3. आईएचएमसी के रिसर्चर साइंटिस्ट जैरी प्राट का कहना है कि दो पैरों वाले इंसानों जैसे रोबोट को खतरनाक और इमरजेंसी कंडिशन में काम में लिया जा सकता है। यह हर तरह के मुश्किल भरे रास्तों में काम कर सकते हैं, जहां पहिये वाले रोबोट नहीं जा सकते।

     

    23 मई को देखिए सबसे तेज चुनाव नतीजे भास्कर APP पर

COMMENT