मुश्किल में एपल / जनवरी से मार्च तक 4 से 4.3 करोड़ आईफोन का ही प्रोडक्शन होगा, पिछले साल इसी दौरान 5.21 करोड़ फोन बने थे

Dainik Bhaskar

Jan 10, 2019, 09:58 AM IST


apple cutting iphone production by 10 percent between january march
X
apple cutting iphone production by 10 percent between january march

  • एपल को 2018-19 की आखिरी तिमाही में कम रेवेन्यू होने का अनुमान, इसीलिए 10% प्रोडक्शन घटाया
  • आईफोन के सभी नए मॉडल एक्स, एक्सएस मैक्स और एक्सआर का प्रोडक्शन कम होगा
  • सीईओ टिम कुक का कहना था अमेरिका और चीन के बीच चल रहे व्यापार तनाव के कारण रेवेन्यू पर असर

गैजेट डेस्क. एपल ने 2019 की पहली तिमाही के लिए अपने राजस्व अनुमान में कटौती के एक सप्ताह बाद जनवरी-मार्च तिमाही के लिए आईफोन का प्रोडक्शन 10% कम करने का फैसला किया है। निक्केई एशिया रिव्यू ने बुधवार को यह जानकारी दी। पिछले दो महीनों में यह दूसरी बार है जब आईफोन निर्माता ने फ्लैगशिप डिवाइस के प्रोडक्शन में कटौती की है। एपल ने पिछले महीने सप्लायर्स से प्रोडक्शन कम करने को कहा है। 

जनवरी-मार्च में 4 से 4.3 करोड़ आईफोन बनेंगे

  1. आईफोन के सभी नए मॉडल एक्सएस मैक्स, एक्सएस और एक्सआर का प्रोडक्शन कम किया जाएगा। हर सप्लायर के लिए प्रोडक्शन में कमी का स्तर अलग-अलग रखा गया है। कुल मिलाकर कटौती 10% की है। 

  2. अब नए और पुराने आईफोन मॉडल मिलाकर जनवरी-मार्च क्वाटर के लिए 4 करोड़ से 4.3 करोड़ यूनिट का प्रोडक्शन होगा। पहले 4.7-4.8 करोड़ यूनिट का प्रोडक्शन होना था। 

  3. जनवरी-मार्च 2018 की तुलना में प्रोडक्शन में 20% की कमी होगी। पिछले साल इस क्वार्टर में 5.21 करोड़ आईफोन का प्रोडक्शन हुआ था। पूरे मामले पर एपल की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। 

एपल को आखिरी तिमाही में 84 अरब डॉलर रेवेन्यू मिलने की उम्मीद

  1. एपल के सीईओ टिम कुक ने 2 जनवरी को निवेशकों को भेजे एक पत्र में कहा था कि 2018-19 की आखिरी तिमाही में कंपनी को 84 अरब डॉलर राजस्व मिलने की उम्मीद है। पहले यह अनुमान 89 से लेकर 93 अरब डॉलर तक का था। 

  2. कुक ने कहा था कि अमेरिका के साथ चीन के चल रहे व्यापार तनाव के कारण कंपनी के राजस्व पर असर हुआ है। साथ ही चीन की अर्थव्यवस्था में मंदी ने भी कंपनी के राजस्व को प्रभावित किया है। 

  3. उन्होंने कहा था कि कंपनी ने कुछ उभरते हुए बाजार में चुनौतियों का अनुमान लगाया था। लेकिन, ग्रेटर चाइना में मंदी का अनुमान नहीं लगा पाई थी। आईफोन के सप्लाई चेन में शामिल अन्य कंपनियों पर भी पड़ रहा है।

  4. पर सीईओ टिम कुक की सैलरी 2018 में 22% बढ़ी

    एपल इन दिनों भले ही मुश्किलों से जूझ रही हो, लेकिन इसके सीईओ टिम कुक का पैकेज पिछले साल 22% बढ़ा। अब कुक का सालाना पैकेज 15.7 मिलियन डॉलर (करीब 110 करोड़ रुपए) हो गया है। यह जानकारी सिक्योरिटी एंड एक्सचेंज में दायर फाइलिंग से सामने आई है। कुक की बेसिक सैलरी 21 करोड़ रुपए है। उन्हें 85 करोड़ रुपए का बोनस और चार करोड़ रुपए अन्य मद में दिए गए हैं। लगातार दूसरे साल कुक के पैकेज में बढ़ोतरी की गई है। 

COMMENT