टेक टिप्स /गूगल पासवर्ड मैनेजर का उपयोग करना है कई तरह से फायदेमंद



benefits of using google password manager
X
benefits of using google password manager

Dainik Bhaskar

Apr 15, 2019, 02:21 PM IST

 

गैजेट डेस्क. आजकल डेटा हैकिंग से बचने का सबसे अच्छा तरीका है सिक्योर और यूनिक पासवर्ड्स क्रिएट करना, जिन्हें आप सेंट्रली कंट्रोल कर सकते हैं। गूगल क्रोम में एक बिल्ट-इन पासवर्ड मैनेजर होता है जिससे आपको थर्ड-पार्टी सॉफ्टवेयर की जरूरत नहीं पड़ती। गूगल पासवर्ड मैनेजर के कई फायदे हैं, जैसे तेजी से रजिस्ट्रेशन करना और प्रत्येक अकाउंट के पासवर्ड को यूनिक बनाना। 

  • ऑटो डिटेक्शन फैसिलिटी 

    ऑनलाइन सर्विसेज का रजिस्ट्रेशन स्पीड से करने के लिए क्रोम का ऑटोफिल फीचर लंबे समय से काम आ रहा है, लेकिन इससे भी एक कदम आगे है पासवर्ड मैनेजर। यह स्वत: ही जान लेता है कि आप किसी नौकरी या परीक्षा के लिए साइन अप और पासवर्ड ऑफर कर रहे हैं। आपको अलग से पासवर्ड मैनेजर लोड करने और एक मुश्किल कोड बनाने की जरूरत नहीं होगी। जैसे ही आप पासवर्ड फील्ड में क्लिक करेंगे, क्रोम यह काम कर देगा। 

  • यूनिक होते हैं सभी जेनरेटेड पासवर्ड्स 

    आपको हमेशा यह ध्यान रखना चाहिए कि कभी भी मल्टीपल टाइम्स में एक ही पासवर्ड का उपयोग नहीं करना चाहिए, अन्यथा कोई दूसरा आपके एक से अकाउंट्स को एक्सेस कर सकता है। इस रिस्क को मिनिमाइज करने के लिए अलग-अलग काम के रजिस्ट्रेशन में यूनीक व सिक्योर पासवर्ड डालें। यह सुविधा क्रोम पासवर्ड मैनेजर देता है। क्रोम मैनेजर की ओर से जेनरेट किया हुआ हर पासवर्ड यूनिक होता है और यह दो अलग-अलग अकाउंट्स के लिए एक समान पासवर्ड कभी नहीं देता। 

  • गाइडलाइन्स के हिसाब से चलता है यह पासवर्ड

    कोई भी नया जेनरेट किया हुआ पासवर्ड आमतौर पर इस फॉर्मेट को फॉलो करता है। कम से कम एक लोअरकेस कैरेक्टर, एक या अधिक अपरकेस कैरेक्टर्स और कम से एक नंबर या संख्या। ये तीनों एक मजबूत पासवर्ड के मानक प्रतीक माने जाते हैं। आप जिस साइट में रजिस्ट्रेशन कर रहे हैं और उसमें सिम्बल्स जरूरी हैं, तो पासवर्ड मैनेजर उसको भी डिटेक्ट करने के साथ-साथ जरूरत पड़ने पर उनको शामिल भी कर देगा।

  • अकाउंट की सारी जानकारियां सेंट्रली व्यू करें 

    क्रोम यूजर्स अकाउंट पासवर्ड्स पर जाकर जो चाहते हैं, वह सेव्ड पासवर्ड्स के नीचे लिस्ट होगा। अब किसी एंट्री के आगे 3 वर्टिकल डॉट्स पर क्लिक करके डिटेल्स देख सकते हैं या उसको रिमूव कर सकते हैं। पासवर्ड पता करने के लिए आई (आंख) आइकन को क्लिक करें, लेकिन इसके लिए अपने कंप्यूटर पासवर्ड या गूगल के 2-फैक्टर ऑथेंटिकेशन के जरिए वैरिफिकेशन करवाना होगा। दूसरा तरीका है ब्राउजर में पासवर्ड्स.गूगल.कॉम पर जाकर अपने गूगल अकाउंट में साइन इन करके आपको सभी स्टोर की हुई साइट्स की लिस्ट दिखाई देगी। इनमें से किसी एक को क्लिक करके उसकी जानकारी देखें। यहां आई आइकन को क्लिक करेंगे, तो पासवर्ड दिखेगा या एंट्री को हटाने के लिए डिलीट करें। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना