एटफोल्ड / भारत में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रिसर्च एंड इनोवेशन हब 'एटफोल्ड नालंदा' का उद्घाटन



Eightfold inaugurates new artificial intelligence research and innovation hub in India
X
Eightfold inaugurates new artificial intelligence research and innovation hub in India

Dainik Bhaskar

Jul 23, 2019, 06:17 PM IST

गैजेट डेस्क. मजबूत विकास के मद्देनज़र टैलेंट इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म Eightfold.ai ने आज आधुनिक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्षेत्र में अपने ग्लोबल सेंटर ऑफ एक्सिलेंस, रिसर्च एंड इनोवेशन 'एटफोल्ड नालंदा' की शुरुआत करने की घोषणा की। गूगल एवं फेसबुक में मशीन लर्निंग एक्सपर्ट रह चुके एवं आईआईटी के पूर्व छात्र डॉ. आशुतोष गर्ग और वरुण कचोलिया द्वारा शुरु किए गए Eightfold.ai ने पहले से ही दुनिया भर के 20 देशों में 100 से अधिक ग्राहक बना लिए हैं।

Eightfold.ai ने हाल ही में सीरीज सी राउंड के तहत 28 मिलियन अमेरिकी डॉलर का निवेश हासिल किया है। इसके बाद यह सिलिकॉन वैली की सबसे अच्छी पूंजीबद्ध कंपनियों में से एक बन चुकी है, जिसके पास विभिन्न प्रोडक्ट्स का बढ़ता पोर्टफोलियो एवं दुनिया भर में लगातार बढ़ती टीम है। यह कंपनी तेजी से अपना विस्तार कर रही है। भारत में Eightfold.ai के ग्राहकों में टाटा कम्युनिकेशंस लिमिटेड और डेल्हीवरी का समावेश है।

 

डॉ. आशुतोष गर्ग, को-फाउंडर एवं सीईओ, Eightfold.ai ने कहा, "भारत में पले बढ़े होने के नाते मेरे लिए यह ज़रूरी है कि AI प्लेटफॉर्म के फायदे भारत के कर्मचारियों को भी मिल सकें। एटफोल्ड के टैलेंट इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म को संचालित करने वाले एल्गोरिदम सभी लोगों को अपने लिए सही काम ढूंढने और अपनी क्षमता को पहचानने में उनकी मदद करने के लिए बनाया गया है। इसके साथ ही हमारी विविधता को अपनाना भी आसान बन सकेगा।"

 

कंपनी के को-फाउंडर डॉ. गर्ग और कचोलिया मशीन लर्निंग में अपने शीर्ष स्थान एवं अविष्कारों के लिए बेहद चर्चित हैं, जिनके नाम पर 86 पेटेंट दर्ज हैं। दोनों को-फाउंडर्स ने पिछले वर्ष Eightfold.ai में चार नए पेटेंट फाइल किए हैं। भारत में कंपनी के विज़न के तहत Eightfold.ai ने अपने भारतीय हेडक्वार्टर और सेंटर ऑफ एक्सिलेंस को एटफोल्ड नालंदा का नाम दिया है। यह सेंटर ऑफ एक्सिलेंस संदीप गोयल के नेतृत्व में संचालित किया जाएगा, जो भारत में जनरल मैनेजर के पद पर कार्यरत होंगे।

 

डॉ. गर्ग ने कहा, "आज हमारे पास चार महाद्वीपों के 20 देशों में ग्राहक हैं और वो हमारे टैलेंट इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म पर प्रतिभाशाली कर्माचारियों की नियुक्ति, करियर प्लानिंग, कौशल विकास तथा कर्मचारी एवं कैंडिडेट अनुभव के मामले में इनोवेशन को आगे बढ़ा रहे हैं। भारत अपने आप में दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे तेज़ बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है और इस देश को बड़े स्तर पर सेवाएं प्रदान करने के लिए हमारी कंपनी के कई सारी रणनीतिक कार्य प्रक्रियाओं को लाने का यह सही समय है। संदेश गोयल का स्वागत करते हुए मैं बेहद उत्साहित हूं और उनके साथ भारत में एक बेहतरीन टीम तैयार करने की उम्मीद करता हूं।"

 

संदेश गोयल, जनरल मैनेजर, भारत, Eightfold.aiने कहा, "भारत में एटफोल्ड नालंदा ग्लोबल सेंटर ऑफ एक्सिलेंस की शुरुआत हम सभी के लिए खुशी का मौका है। दुनिया भर की सभी नियोक्ता कंपनियों के लिए रीस्किलिंग एक प्रमुख अनिवार्य ज़रूरत बनकर उभर रही है और सबसे अधिक इसका चलन भारत में देखने मिल रहा है। दुनिया की आधी युवा आबादी भारत में है और यही युवा कर्मचारी नौकरी खोने की मुश्किलों का सामना करते हैं, जिसके लिए उन्हें तेज़ी से नए कौशल सीखने की ज़रूरत पड़ती है। भारत की कंपनियों को यह नया चलन ज़रूर अपनाना चाहिए ताकि अपने कर्मचारियों को आकर्षित कर सकें और कंपनी के साथ जोड़े रख सकें। हमारे टैलेंट इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म के जरिये हम ऐसी ही मुश्किलों को बड़े स्तर पर हल कर रहे हैं।"

 

Eightfold.aiके बारे में

 

एटफोल्ड टैलेंट इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म की पेशकश करता है, जो कंपनियों के लिए सबसे अच्छे कर्मचारियों की पहचान करने, विविध पृष्ठभूमि के लोगों की नियुक्ति के अपने लक्ष्य पूरे करने, उच्च प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों को साथ जोड़े रखने और प्रतिभाशाली उम्मीदवारों तक पहुंचने का सबसे प्रभावशाली तरीका है। एटफोल्ड का पेटेंटेड आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस आधारित प्लेटफॉर्म व्यवसायों को अपने यहां टैलेंट मैनेजमेंट को प्रतिस्पर्धात्मक लाभ में बदलने हेतु सक्षम बनाता है। फेसबुक, गूगल और अन्य प्रमुख टेक्नोलॉजी कंपनियों के प्रमुख इंजिनियरों द्वारा तैयार किया गया एटफोल्ड का संचालन अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित माउंटेन व्यू से होता है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना