नकेल / हिंसा की लाइव स्ट्रीमिंग रोकने फेसबुक ने बनाई वन स्ट्राइक पॉलिसी, अकाउंट पर लगेगा प्रतिबंध



Facebook imposes restrictions on live-streaming to prevent future abuse
X
Facebook imposes restrictions on live-streaming to prevent future abuse

  • फेसबुक फोटो, वीडियो विश्लेषण तकनीक के सुधार पर कर रही काम
  • तकनीक को सुधारने करीब 51 करोड़ रुपए कर रही खर्च

Dainik Bhaskar

May 15, 2019, 02:36 PM IST

गैजेट डेस्क. फेसबुक ने हिंसा की लाइव स्ट्रीमिंग और इसकी शेयरिंग को रोकने के लिए वन स्ट्राइक पॉलिसी बनाई है। कंपनी ने न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में हमलावर द्वारा हिंसा की लाइव स्ट्रीमिंग के बाद ये फैसला लिया। फेसबुक में 'इंटीग्रिटी' के वीपी गाय रोसेन ने बताया कि जिन लोगों ने तय नियम तोड़े हैं, उन पर फेसबुक के लाइव स्ट्रीमिंग फीचर का गलत इस्तेमाल करने के लिए प्रतिबंध लगाया जाएगा। अगर किसी यूजर ने फेसबुक वॉल पर हिंसक वीडियो की लाइव स्ट्रीमिंग की है, तो वे आगे इस फीचर का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।


रोसेन ने बताया कि मार्च में क्राइस्टचर्च में आंतकी हमले की लाइव स्ट्रीमिंग की गई थी। साथ ही, इस वीडियो को कई यूजर्स ने शेयर भी किया था। ऐसे में हमारी कोशिश है कि इस तरह की सर्विस को सीमित किया जाए, ताकि लोग फेसबुक पर नफरत फैलाने का काम ना कर सकें। इसके लिए वन स्ट्राइक पॉलिसी को लागू किया जाएगा। इस पॉलिसी के लागू होने के बाद जो यूजर इसमें दी गईं कंडीशन का तोड़ेगा उसके अकाउंट, या फीचर्स पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

 

फेसबुक ने न्यूजीलैंड हमले के वीडियो डिलीट किए

रोसेन ने कहा कि कोई यूजर किसी आतंकवादी संगठन के बयान का लिंक साझा करता है, तब ये भी पॉलिसी के खिलाफ होगा। उसके अकाउंट पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। न्यूजीलैंड में हुए आंतकी हमले के वीडियो को फेसबुक ने कई यूजर्स की वॉल से डिलीट किया, लेकिन कई लोगों ने इसके एडिटेड वीडियो भी शेयर किए। यह भी हमारे लिए चुनौती है।

 

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का इस्तेमाल कर रहा फेसबुक

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में नफरत फैलाने वाले ग्रुप्स की पहचान कर उन्हें अपने प्लेटफॉर्म से हटाने के लिए फेसबुक आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का इस्तेमाल भी कर रहा है। ऐसे ग्रुप्स फेसबुक की कोई भी सर्विस यूज नहीं कर पाएंगे। फेसबुक ने पिछले दिनों यह ऐलान भी किया था कि वह श्वेत राष्ट्रवाद और श्वेत अलगाववाद की तारीफ या उसके सपोर्ट को बैन करेगा। फेसबुक और इंस्टाग्राम पर यह बैन अगले हफ्ते लागू हो जाएगा।

 

फेसबुक ने फोटो और वीडियो विश्लेषण तकनीक में सुधार करने के लिए अमेरिका के तीन विश्वविद्यालयों के साथ अनुबंध किया है। इसके लिए वो 75 लाख डॉलर (करीब 51 करोड़ रुपए) खर्च कर रहा है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना