टेक एलर्ट / एक्सपर्ट से जानें फोन में वायरस है तो कैसे पता लगाए



X

May 04, 2019, 11:12 AM IST

गैजेट डेस्क. डिजिटल क्रिमिनल्स के निशाने पर अब एंड्रॉयड डिवाइस ज्यादा हैं, जाहिर है इनकी लोकप्रियता ने कुछ बुराइयां भी खींच ली हैं। एंड्रॉयड कई बार तो खुद ही वायरस या मालवेर को रोक लेते हैं, फिर भी कुछ दफा इनका प्रवेश हो ही जाता है। इन बातों पर गौर करेंगे तो जान पाएंगे कि आपके मोबाइल में वायरस रहता है या नहीं। टेक एक्सपर्ट तनु एस से जानें कुछ सेफ्टी टिप्स...

  • लगातार एड

    विज्ञापन तो इंटरनेट का अभिन्न अंग बन चुके हैं। अगर आपके मोबाइल पर एड का लगभग हमला हो रहा है, तो अब वक्त है जागने का। किसी भी एप के बीच में अचानक कई एड्स का पॉप होना, संकेत है कि वायरस प्रवेश हो चुका है। ब्राउजर के हाईजैक किए जाने से भी कई बार ऐसा होता है।

  • बैट्री जल्दी खत्म होना

    अगर आपके फोन की बैट्री का चार्ज जल्दी ड्रेन हो रहा है, तो इसकी कई वजह हो सकती हैं। जाहिर तौर पर एक बड़ी वजह मालवेर भी है, जो बैकग्राउंड में चल रहा है और इस वजह से बैट्री ड्रेन हो रही है। वैसे अन्य कोई एप भी बैट्री को जल्दी ड्रेन कर कती है या फिर यह भी हो सकता है कि उसकी उम्र हो चली है।

  • डेटा खर्च में

    अचानक तेजी कुछ मालवेर एप इंटरनेट डेटा का भी जबरदस्त इस्तेमाल करती हैं। यदि आपने अपने फोन के उपयोग की आदत में कोई बदलाव नहीं किया है फिर भी डेटा के इस्तेमाल में कोई उछाल देखें तो सावधान हो जाएं, ये वायरस भी हो सकता है।

  • अनपेक्षित एप का दिखना

    एप लिस्ट भी समय-समय पर चेक करते रहना चाहिए। अगर आपको अपने फोन में ऐसी कोई एप दिख रही है जिसे आपने पहले कभी नहीं देखा था या डाउनलोड भी नहीं किया है तो यह मालवेर एप हो सकती है। नई व्यूहरचना कुछ ऐसी है कि एप अपने आप इंस्टॉल हो जाती है और फिर गायब भी हो जाती है। ऐसे में जब आप एप लिस्ट देखेंगे तो वो जगह खाली दिखेगी।

  • कैसे हटाएं

    जब पूरी तरह से संतुष्ट हो जाएं कि आपके फोन में वायरस ही है और आपको लगे कि मोबाइल बार-बार हैंग कर रहा है, तो समझिये इसे गायब करने का वक्त आ गया है। सबसे पहले अपने फोन को सेफ मोड में लीजिए, इससे सभी थर्ड-पार्टी एप्स गायब हो जाएंगी।


    इसकी विधि हर फोन में अलग हो सकती है लेकिन ज्यादातर में फोन करके उसे सेफ मोड में ऑन किया जाता है। फिर सेटिंग ओपन करके "एप एंड नोटिफिकेशन' में "सी ऑल' ऑप्शन से एप लिस्ट खोल लें। मालवेर एप को ढूंढें और अनइंस्टॉल कर दें।  न को वापस नॉर्मल मोड पर ले आएं।

  • वायरस दूर रखने के लिए ये भी किया जा सकता है

    • गूगल प्ले स्टोर से ही एप इंस्टॉल करें।
    • एंड्रॉयड सिस्टम और एप को हमेशा अपडेटेड रखें।
    • एंटी मालवेर सॉफ्टवेर इंस्टॉल करें।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना