शॉर्ट वीडियो ऐप / टिकटॉक को चुनौती दे रहा है भारत का स्टार्टअप रोपोसो, कंपनी जुटा चुकी है 255 करोड़ रु. का फंड



India's startup Roposo is challenging Tiktok
X
India's startup Roposo is challenging Tiktok

  • आईआईटी दिल्ली के तीन पूर्व छात्रों ने 2014 में की थी शुरुआत

Dainik Bhaskar

Sep 16, 2019, 12:21 PM IST

गैजेट डेस्क. दुनियाभर में इन दिनों शॉर्ट वीडियो प्लेटफॉर्म की खूब धूम है। लेकिन, जहां तक भारतीय बाजार की बात है तो ऐसे प्लेटफॉर्म के मामले में टिकटॉक जैसी चाइनीज और वीमियो जैसी अमेरिकी कंपनियों का दबदबा रहा है। इनके बीच अब एक भारतीय स्टार्टअप रोपोसो तेजी से लोकप्रिय हो रहा और अपनी पहचान बना रहा है। साल 2014 में आईआईटी दिल्ली के तीन छात्रों मयंक भानगड़िया, अविनाश सक्सेना और कौशल शुभांक ने इसकी शुरुआत की थी। रोपोसो के अब तक 4.2 करोड़ सब्स्क्राइबर हो चुके हैं।

 

भारतीय भाषाओं में कंटेंट उपलब्ध कराने पर जोर: रोपोसो के सीईओ और को-फाउंडर मयंक भानगड़िया ने कहा कि भारत में एक भारतीय भाषाओं वाले वीडियो प्लेटफॉर्म की सख्त जरूरत थी। रोपोसो इसी जरूरत को पूरी करने की कोशिश है। उन्होंने बताया कि इस प्लेटफॉर्म पर कई यूजर कंटेंट क्रिएशन के जरिए 15 हजार रुपए महीने तक की कमाई भी कर रहे हैं। इस स्टार्टअप ने अब तक 255 करोड़ रुपए का फंड जुटाया है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना