नया तरीका /दुनियाभर में 3 साल से बड़े बच्चों को खेल-खेल में मैथ्स-अंग्रेजी सिखा रहा कूबो रोबोट



X

  • डेनमार्क की कंपनी ने डेवलप किया है कूबो रोबोट
  • अल्फाबेट, मैथ्स, डायरेक्शन, म्यूजिक सिखाता है रोबोट
  • पजल को स्कैन करके उसे बिना देखे रिपीट करता है रोबोट

Dainik Bhaskar

May 04, 2019, 01:33 PM IST

गैजेट डेस्क. दुनियाभर में 3 साल से बड़े बच्चों को कोडिंग सिखाने के लिए कूबो रोबोट का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसे डेनमार्क की कंपनी कूबो ने डेवलप किया है। ये रोबोट खिलौने जैसा है, जिससे खेल-खेल में बच्चे शिक्षित हो रहे हैं। ये बच्चों को अल्फाबेट, मैथ्स, डायरेक्शन के साथ म्यूजिक आसानी से सिखा देता है। इसकी कीमत 169 डॉलर (करीब 11700 रुपए) है।

  • रोबोट का पजल-बेस्ड डिजाइन

    रोबोट का पजल-बेस्ड डिजाइन

    कूबो रोबोट को पजल-बेस्ड डिजाइन दिया गया है। इसे बच्चे आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं। कंपनी का कहना है कि ये किसी टीचर की तरह बच्चों को कम्प्यूटर साइंस और कोडिंग आसानी से सिखा सकता है। इसमें किसी तरह की स्क्रीन नहीं है और न ही इसे ऑपरेट करने के लिए बहुत सारे बटन दिए हैं। इसमें किसी सॉफ्टवेयर को इनस्टॉल करने की भी जरूरत नहीं है।

  • ऐसे किया जाता है इसका इस्तेमाल

    ऐसे किया जाता है इसका इस्तेमाल

    कूबो रोबोट दो हिस्सों में होता है जिन्हें आपस में जोकर इस्तेमाल किया जाता है। इसके साथ एक खास तरह की किट आती है, जिसमें अल्फाबेट, नंबर्स, डायरेक्शन की क्लिप होती हैं। ये सभी पजल डिजाइन में होती है। इन्हें आपस में जोड़कर रोबोट को उसके ऊपर छोड़ देते हैं। ये पजल को स्कैन करता है फिर बच्चों को वैसा करके दिखाता है। रोबोट अल्फाबेट, नंबर्स, डायरेक्शन को बोलता भी है, जिससे बच्चे आसानी से सारी चीजें समझ सकें।

  • इस तरह करता है काम

    इस तरह करता है काम

    इस रोबोट में नीचे की तरफ कैमरा और स्कैनर होता है। ये पजल को स्कैन करके मेमोरी में सेव कर लेता है। इसके बाद स्कैनिंग के आधार पर ये पजल को रिपीट करता है। रोबोट में रिचार्जेबल बैटरी दी है। इसे दुनियाभर के 33 देशों में बेचा जा रहा है।

  • 4 तरह के सेट में आता है कूबो रोबोट

    4 तरह के सेट में आता है कूबो रोबोट

    1. कूबो कोडिंग सिंगल सेट
    2. कूबो कोडिंग 4 पैक
    3. कूबो कोडिंग 8 पैक
    4. कूबो कोडिंग 12 पैक

COMMENT