तकनीक / मोटर बोट में इस्तेमाल हुई ट्रक और बस जैसी सस्पेंशन टेक्नोलॉजी, 75% ज्यादा आरामदायक और सुरक्षित



X

Dainik Bhaskar

Jun 18, 2019, 05:05 PM IST

गैजेट डेस्क. ऑस्ट्रेलिया की रिसर्च एंड डेवलपमेंट कंपनी नौटी क्राफ्ट ने बोट में सस्पेंशन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया है। कंपनी का कहना है इस तकनीक की मदद से बोट चलाने के दौरान समुद्र की ऊंची लहरों सं जूझना नहीं पड़ेगा। सस्पेंशन टेक्नोलॉजी आमतौर पर सिर्फ सकड़ों पर चलने वाले वाहनों में ही देखने को मिलती है जिससें खराब रास्तों पर चलने के दौरान लगने वाले झटकों से बचने के लिए किया जाता है।

 

नौटी क्राफ्ट ने मारिन सस्पेंशन टेक्नोलॉजी में बोट के निचले हिस्से को ऊपरी हिस्से से अलग कर दिया है, जिनके बीच हाइड्रोलिक सिस्टम लगे हुए हैं। इस तकनीक के कारण बोट समुद्र की ऊंची लहरों पर खुद ब खूद एडजस्ट हो जाती है, जिससे बोट पर बैठे लोगों सफर के दौरान सुरक्षित और स्थिर और आरामदायक राइड का अनुभव मिलता है।

मिलिट्री और कमर्शियल इस्तेमाल

  1. इस टेक्नोलॉजी में कई खासियत है जो बाजार में इसकी उपयोगिता को बढ़ाते हैं। बोट में लगे इस हाइड्रोलिक सिस्टम में बोट के चलने के दौरान या खड़ी अवस्था में किसी प्रकार की पावर की जरूरत नहीं पड़ती।

  2. यह तकनीक अलग अलग वजन और समुद्र की स्थिति के अनुसार सेल्फ लेवलिंग और ऑटोमैटिक एडजस्ट हो जाती है। इस तकनीक की मदद से बोट में होने वाली बॉडी वाइब्रेशन 75% तक कम हो जाती है।

  3. कंपनी का कहना है कि सस्पेंशन टेक्नोलॉजी से लैस इस बोट को मिलिट्री और कमर्शियल इस्तेमाल में लिया जा सकता है। इस तकनीक को छोटी और बड़ी बोट दोनों में इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लग्जरी कॉन्सेप्ट को बनाने पर काम किया जा रहा है जिसे हाई-एंड मार्केट के लिए बनाया जाएगा।

  4. नौटी क्राफ्ट के इस इनोवेटिव तकनीक के कई फायदे हैं जो यूजर को बेहतरीन राइड देने में सक्षम है। यह समुद्र की ऊंची लहरों से लगने वाले झटकों को कम करता है और राइड को आरामदायक और सुरक्षित बनाता है। यह ऊंची लहरों में तेज गति से चलने में सक्षम है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना