फायरिंग केस / देरी से कार्यवाही करना पड़ा महंगा, न्यूजीलैंड की कंपनियों ने फेसबुक और गूगल को विज्ञापन न देने का लिया फैसला

X

  • फेसबुक ने 24 घंटे में हटाए 15 लाख वीडियो
  • शुक्रवार को दो मस्जिदों में हुई थी गोलीबारी की घटना
  • हमलावर ने GoPro कैमरे से किया था फेसबुक लाइव

Mar 18, 2019, 04:14 PM IST

गैजेट डेस्क. न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में दो मस्जिदों में हुई गोलीबारी की घटना का वीडियो कई घंटों तक फेसबुक पर रहा। फेसबुक ने वीडियो को हटाने में देरी की जिससे नाराज न्यूजीलैंड की कई बड़ी कंपनियों ने फेसबुक और गूगल से विज्ञापन न देने का मन बना लिया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एएसबी बैंक, लोटो NZ, बर्गर किंग, स्पार्क जैसी बड़ी कंपनियां इस फैसले में शामिल है हालांकि अभी यह पुष्टि नहीं हो पाई है इन कंपनियों ने कितने समय के लिए डिजिटल विज्ञापन देना बंद किया है।

 

क्या है मामला...

  • न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में अल-नूर और लिनवुड मस्जिद में शुक्रवार (15 मार्च) को गोलीबारी हुई थी, जिसमें 49 लोगों की मौत हो गई थी। प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न ने इसे आतंकी हमला बताया। 29 साल में न्यूजीलैंड में यह पहला मौका था, जब इस तरह की मास शूटिंग हुई।
  • हमलावर ने GoPro कैमारे का इस्तेमाल कर घटना की लाइवस्ट्रीमिंग फेसबुक पर की थी। मस्जिदों में की गई फायरिंग का वीडियो लगभग 17 मिनट का है, जो घटना के बाद भी कई घंटों तक फेसबुक पर रहा। डेटा मोडरेटर की बात करने वाली फेसबुक कंपनी ने इस पर काफी देरी से कार्यवाही की।

 

24 घंटे में हटाए 15 लाख वीडियो

 

फेसबुक पर गोलीबारी का वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर दुनियाभर में काफी वायरल हुआ। मामलें को तूल पकड़ता देख कंपनी ने वीडियो हटाने का काम शुरू किया। जिस लेकर कंपनी ने सफाई दी कि वह 24 घंटे के भीतर 15 लाख से ज्यादा वीडियो को फेसबुक प्लेटफार्म से डिलीट कर चुकी है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना