न्यूयॉर्क / 9 जुलाई से शुरू होगी उबर कॉप्टर सर्विस, न्यूनतम 14 हजार रुपए होगा किराया



uber copters will launch in newyork on july 9th with rent 14 thousand flights
X
uber copters will launch in newyork on july 9th with rent 14 thousand flights

  • फिलहाल यह तय स्टेशनों के बीच ही उड़ान भरेगा, इसमें 5 पैसेंजर और दो पायलट बैठ सकेंगे
  • कंपनी को उम्मीद है कि वो अपनी एयरटैक्सी सर्विस को भी 2023 तक शुरू कर लेगी

Dainik Bhaskar

Jun 07, 2019, 06:34 PM IST

गैजेट डेस्क. तीन साल पहले उबर ने उबर एलीवेट (फ्लाइंग टैक्सी) सर्विस शुरू करने का ऐलान किया था, एयर टैक्सी तो नहीं शुरू हो पाई लेकिन कंपनी 9 जुलाई से अपनी 'उबर कॉप्टर' सर्विस जरूर शुरू करने जा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह सर्विस सबसे पहले न्यूयॉर्क शहर में शुरू की जाएगी। इसका फायदा सबसे पहले उबर रिवॉर्ड के उन मेंबर्स को मिलेगा जिन्हें प्लेटिनम और डायमंड स्टेटस मिला है। कंपनी के मुताबिक प्रति व्यक्ति उड़ान का खर्च न्यूनतम 14 हजार से 16 हजार के बीच होगा।

 

े

 

रिपोर्ट के मुताबिक शुरुआती तौर पर उबर कोप्टर पहले से तय रूट के बीच ही उड़ान भरेगा। यह मैनहैटन के स्टेटन आइलैंड फेरी से कैनेडी एयरपोर्ट के बीच उड़ान भरेगा। उबर कॉप्टर यह दूरी 8 मिनट में तय करेगी। हालांकि कंपनी ने आधिकारिक तौर पर सर्विस के बारे में कोई पुष्टि नहीं की है लेकिन रिपोर्ट्स के मुताबिक फ्लाइट में 5 लोगों के साथ दो पायलट के बैठने की जगह होगी, जिसे हिलीफ्लाइट चार्टर सर्विस के द्वारा ऑपरेट किया जाएगा।

 

पप

 

2016 में कंपनी ने ऐलान किया था कि वो आकाश के लिए भी राइड शेयरिंग सर्विस की शुरुआत करेंगे। इसके बाद उबर ने अपनी फ्लाइंग कार के कॉन्सेप्ट मॉडल को भी पेश किया था।

 

द वर्ज की रिपोर्ट के मुताबिक उबर की एयर टैक्सी एयरक्राफ्ट कई मायनों में प्लेन और हेलिकॉप्टर से मिलती जुलती होगी। इसमें लगे चार रोटर लैंडिंग के समय प्लेन को जमीन से ऊपर उठाते हैं जबकि टेल में लगा पांचवां रोटर प्लेन को आगे की तरफ चलता है। एक रोटर फेल होने पर भी इसे कोई फर्क नहीं पड़ेगा, तब भी यह सुरक्षित लैंडिंग करेगा। यह इलेक्ट्रिक एयरक्राफ्ट होगा, जो एक से दो हजार फीट की ऊंचाई तक उड़ान भरने में सक्षम होगा।

 

कंपनी को उम्मीद है कि वो अपनी एयरटैक्सी सर्विस को 2023 तक शुरू कर लेंगे। उबर ने नासा के साथ भी स्पेस एक्ट एग्रीमेंट किया है, जिसके तहत नया एयर टैक्सी कंट्रोल सिस्टम बनाया जाएंगा जो इन लो-फ्लाइंग हाइब्रिड कारों की उड़ानों को मैनेज करेगा। कंपनी ने एयरक्राफ्ट की टेस्टिंग के लिए यूएस आर्मी से भी अनुबंध किया है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना