पहल / आम चुनावों में फेक न्यूज से बचने के लिए साथ आए व्हाट्सएप और नैसकॉम, भारत में डिजिटल साक्षरता बढ़ाने के लिए करेंगे काम

X

  • नैसकॉम फाउंडेशन और व्हाट्सएप ने साथ मिलकर डिजिटल लिट्रेसी कैंपेन लॉन्च किया है
  • कैंपेन के जरिए एक लाख से ज्यादा लोगों को ट्रेनिंग देने का लक्ष्य है

 

Mar 18, 2019, 05:39 PM IST

गैजेट डेस्क. आम चुनाव के दौरान फर्जी खबरों से बचने के लिए व्हाट्सएप और नैसकॉम फाउंडेशन साथ आए हैं। दोनो मिलकर भारत में डिजिटल साक्षरता बढ़ाने के लिए ट्रेनिंग देंगे। इस कैपेंन के तहत व्हाट्सएप और नैसकॉम फाउंडेशन मिलकर एक लाख से ज्यादा भारतीयों को फर्जी खबरों को पहचानने की ट्रेनिंग और व्हाट्सएप पर सुरक्षित रहने की जानकारी देंगे।


फर्जी खबरों को पहचानने और रिपोर्ट करने की देंगे ट्रेनिंग

ट्रेनिंग के लिए एक विशेष पाठ्यक्रम तय किया गया है, इसे व्हाट्सएप और नैसकॉम ने मिलकर तैयार किया है। पाठ्यक्रम को कई क्षेत्रीय भाषाओं में भी उपलब्ध करवाया जाएगा। इसमें ऐसे उपयोगी टूल्स की जानकारी दी जाएगी, जिनकी मदद से यूजर्स फॉरवर्ड किए गए मैसेज को वेरिफाई कर सकेंगे। इनकी मदद से यूजर्स संदिग्ध कंटेट को फैक्ट चेकर्स और लॉ एनफोर्समेंट एजेंसी को रिपोर्ट भी कर सकेंगे।

 

ईच वन, टीच थ्री

ट्रेनिंग नैसकॉम फाउंडेशन के स्वयंसेवकों द्वारा दी जाएगी। कोई भी व्यक्ति नैसकॉम की ऑफिशियल साइट पर जाकर एक फॉर्म भरकर स्वयंसेवक बन सकता है। स्वयंसेवकों के लिए 'ईच वन टीच थ्री' कैपेंन लॉन्च किया गया है। जिसके तहत हर व्यक्ति जो इस ट्रेनिंग का हिस्सा बनता है, वो इसमें सीखे गए सबकों को तीन अन्य लोगों तक पहुंचाएगा। इस तरह ईच वन टीच थ्री कैपेंन के जरिए एक नेटवर्क चेन बनाकर जरूरी जानकारी को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाया जा सकेगा।

 

स्वयंसेवक ट्रेनिंग के सबकों को सोशल मीडिया पर भी शेयर करेंगे, ताकि फर्जी मैसेजस से बचाव की जानकारी सभी लोगों तक पहुंच सके। कंपनी की पहली ट्रेनिंग 27 मार्च को दिल्ली में होगी। जिसके बाद देश भर में अलग-अलग स्थानों पर ट्रेनिंग वर्कशॉप और कॉलेजों में रोड शो जैसी एक्टिविटी आयोजित की जाएगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना