--Advertisement--

स्वीडन / स्वीडिश कंपनी ने बनाई पहली इलेक्ट्रिक बोट; चलने पर आवाज नहीं होती, कीमत 1.7 करोड़ रुपए



worlds first electric boat candela seven goes on sale
worlds first electric boat candela seven goes on sale
worlds first electric boat candela seven goes on sale
worlds first electric boat candela seven goes on sale
worlds first electric boat candela seven goes on sale
worlds first electric boat candela seven goes on sale
X
worlds first electric boat candela seven goes on sale
worlds first electric boat candela seven goes on sale
worlds first electric boat candela seven goes on sale
worlds first electric boat candela seven goes on sale
worlds first electric boat candela seven goes on sale
worlds first electric boat candela seven goes on sale

  • इसमें 48kWh की बैटरी, जो 12 घंटे में फुल चार्ज होगी
  • बोट की लंबाई 25 फीट और चौड़ाई 7 फीट, मार्च 2019 तक इसकी डिलिवरी शुरू हो जाएगी

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 01:05 PM IST

गैजेट डेस्क.  स्वीडिश कंपनी कैंडेला स्पीडबोट एबी ने दुनिया की पहली इलेक्ट्रिक बोट 'कैंडेला 7' बनाई है। इसकी कीमत 2,45,00 डॉलर (करीब 1.73 करोड़ रुपए) रखी गई है। इसे कंपनी की वेबसाइट से प्री-ऑर्डर किया जा सकता है। हालांकि, इसकी डिलिवरी 2019 में ही की जाएगी। 25 फीट लंबी इस इलेक्ट्रिक बोट में एक बार में 5 लोग बैठ सकते हैं, जबकि ये 34mph की रफ्तार से चल सकती है। कंपनी का दावा है कि स्पीड और रेंज के मामले में ये पारंपरिक बोट की तरह ही है। कार्बन फाइबर से बनी बोट के चलने पर आवाज बिल्कुल नहीं होती। इसे 150 बोट के ऑर्डर मिल चुके हैं।

एक बार में 58 मील की दूरी तय करेगी कैंडेला 7

  1. कैंडला-7 को कार्बन फाइबर से बनाया गया है और इसमें हल के तौर पर हाइड्रोफॉइल्स का इस्तेमाल किया गया है। कंपनी के मुताबिक, ये इलेक्ट्रिक बोट एक बार में 50 समुद्री मील (58 मील) की दूरी तय कर सकती है।

  2. इसके अलावा इस बोट के आगे और पीछे दोनों तरफ रिट्रेक्टेबल का इस्तेमाल किया गया है, साथ ही उथले पानी में चलने के लिए भी इसमें खास तरह का मोड दिया गया है।

  3. इस इलेक्ट्रिक बोट में 44kWh की लिथियम-आयन बैटरी दी गई है जिसे फुल चार्ज होने में करीब 12 घंटे का समय लगता है।

भविष्य में कम होगी इसकी कीमत : सीईओ

  1. कैंडेला स्पीडबोट एबी की स्थापना 2014 में की गई थी। इसके सीईओ गुस्तव हैसेल्सकोग ने बताया कि, 'पारंपरिक बोट की तुलना में इस बोट में ऊर्जा की खपत 75% तक कम हो जाती है।'

  2. उन्होंने बताया कि भविष्य में इस बोट की कीमतें कम करने के लिए इसके ज्यादा से ज्यादा प्रोडक्शन पर फोकस किया जा रहा है। 

  3. उन्होंने बताया कि, 'आज मार्केट में इलेक्ट्रिक बोट मौजूद नहीं है। अगर कोई है भी तो उसकी स्पीड और रेंज बहुत कम है। इसलिए, इलेक्ट्रिक बोट के लिए लोग हमारे पास आते हैं।'

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..