Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» 11 Lawyers Recommended Before Making High Court Judge Later Objected

11 वकीलों को हाईकोर्ट जज बनाने की पहले सिफारिश की, बाद में आपत्ति जताई

- इन नामों पर हरियाणा सरकार पहले ही जता चुकी आपत्ति

Bhaskar News | Last Modified - Jun 13, 2018, 04:31 AM IST

11 वकीलों को हाईकोर्ट जज बनाने की पहले सिफारिश की, बाद में आपत्ति जताई

चंडीगढ़. लगभग 6 महीने पहले 11 वकीलों को पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट के जज बनाए जाने की सिफारिश करने वाले कोलेजियम के मेंबर जस्टिस अजय कुमार मित्तल ने एक्टिंग चीफ जस्टिस बनने के बाद इसी सिफारिश पर अपनी आपत्ति जता दी है। जस्टिस मित्तल ने यूनियन लॉ मिनिस्टरी को लेटर लिख इनमें से कुछ नामों पर अपनी आपत्ति दर्ज की है। कहा कि ये नाम मेरिट पर तय नहीं हैं। नवंबर 2017 में चीफ जस्टिस एसजे वजीफदार, जस्टिस अजय कुमार मित्तल और जस्टिस सूर्यकांत के कोलेजियम ने 11 वकीलों को जज बनाने की सिफारिश की थी। चीफ जस्टिस वजीफदार के रिटायर होने के बाद एक्टिंग चीफ जस्टिस रहते हुए जस्टिस मित्तल ने इस सिफारिश पर अपनी आपत्ति दर्ज कर दी। इस मामले का रोचक पहलू यह भी है कि हरियाणा सरकार ने इन नामों पर पहले ही आपत्ति जता दी थी।

इनके नाम भेजे थे...

- पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट कोलेजियम की 11 वकीलों को हाईकोर्ट जज बनाने की सिफारिश हरियाणा सरकार ने लौटा दी है। इनमें पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज आरके नेहरू की बेटी मंजरी नेहरू कौल का नाम शामिल है।

- पंजाब सरकार ने लिस्ट पर सहमति दे दी थी लेकिन हरियाणा सरकार ने आपत्ति दर्ज कर दी थी। पंजाब की तरफ से सुकांत गुप्ता, हरसिमरन सिंह, अरुण कुमार मोंगा, जसदीप सिंह गिल, मंसूर अली, दपिंदर सिंह नलवा और हर्ष बुंगर का नाम शामिल है। हरियाणा की तरफ से मंजरी नेहरू कौल, संजय वशिष्ठ, मनोज बजाज और सुनील कुमार सिंह पंवार के नाम शामिल हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Chandigarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 11 vkilon ko highkort jj banane ki pehle sifaarish ki, baad mein aaptti jtaaee
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
Reader comments

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×