यहां पिछले 20 दिन से कई फीट बर्फ में फंसे हुए हैं 15000 भेड़-बकरियों के साथ 150 से ज्यादा चरवाहे, निकलने के लिए एक पुल था वो भी टूट गया / यहां पिछले 20 दिन से कई फीट बर्फ में फंसे हुए हैं 15000 भेड़-बकरियों के साथ 150 से ज्यादा चरवाहे, निकलने के लिए एक पुल था वो भी टूट गया

Bhaskar News

Oct 12, 2018, 12:11 PM IST

एक युवक बोला- न खाने को है कुछ न पीने को है पानी, सरकार को चिंता नहीं, मरने के लिए छोड़ दिया है

1500 people stranded in lahaul spiti of himachal

चंडीगढ़। सितंबर में हिमाचल के ऊंचाई वाले इलाकों में समय से पहले हुई बर्फबारी आफत लेकर आई। भेड़-बकरियों काे चराने निकले भेड़पालक इसमें फंस गए। कांगड़ा जिले के बड़ा भंगाल क्षेत्र में 150 से ज्यादा लोग 15000 भेड़-बकरियाें, 300 दुर्लभ प्रजाति के घोड़ों के साथ पिछले 20 दिन से फंसे हैं। लेकिन अब तक प्रशासन ने उन्हें निकालने की कोई कोशिश नहीं की है। उन्हें मरने के लिए छोड़ दिया है। एक 23 साल के लड़के और कई भेड़-बकरियो की मौत हो भी चुकी है। खाने-पीने को सामान नहीं है।

निकलने के लिए एक पुल था वो भी टूट गया

- गांववाले मदद कर रहे हैं लेकिन वह सीमित है। अपनी मां के देहांत की खबर सुनकर 10 दिन पहले थमसर जोत से अपने गांव आए रंगील चंद ने बताया कि वे कितनी परेशानी में अपने पशुओं के साथ एक-एक दिन बिता रहे हैं। प्रशासन कह रहा है कि वे भेड़-बकरियों व खच्चरों को छोड़कर लौट आएं। लेकिन वे ऐसा करने को तैयार नहीं हैं।

- रंगील ने बताया कि सभी 150 भेड़पालक 10-10 किलोमीटर आगे-पीछे फंसे हुए हैं। लौटने के लिए एक पुल था जो टूट गया है जिस वजह से वे वापस नहीं आ सके। वहां मौजूद गांववाले कुछ मदद कर देते हैं। खाने-पीने को अब तक मात्र 10 किलो ही चावल मिला है।

- एक 23 वर्षीय लड़के की बर्फ में फंसने से मौत हो गई थी। कई भेड़ें भी मर गई थीं। प्रशासन कहता है कि सब ठीक है लेकिन यह सच्चाई नहीं है। सभी परेशान हैं लेकिन उनकी मजबूरी है कि वे अपना पशुधन छोड़कर आ नहीं सकते।

- उन्होंने प्रशासन काे एक ज्ञापन सौंपकर सभी को निकालने की मांग की है। रंगील चंद ने बताया कि वह शुक्रवार को बड़ा भंगाल के लिए रवाना होगा। पैदल जाने में दो दिन लगेंगे। अगर प्रशासन ने उन्हें नहीं निकाला तो भेड़-बकरियों की तरह उनकी भी मौत हो जाएगी।

बर्फ में फंसे सभी चरवाहे सुरक्षित: डीसी


सभी चरवाहे स्नो लाइन क्षेत्र में सुरक्षित हैं। वीरवार को ही एसडीएम बैजनाथ की इस संदर्भ में बड़ा भंगाल के पंचायत प्रधान और सचिव से फोन पर बातचीत हुई है। स्थानीय डिपू होल्डर द्वारा उन्हें पर्याप्त मात्रा में राशन उपलब्ध करवाया जा रहा है।

X
1500 people stranded in lahaul spiti of himachal
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543