--Advertisement--

28 से बाबा बर्फानी के दर्शनों के लिए अमरनाथ यात्रा शुरू, ट्राईसिटी से जाएंगे 7000 से ज्यादा श्रद्धालु

13 साल से ज्यादा उम्र के लोग करवा सकते हैं रजिस्ट्रेशन, बालटाल और पहलगांव से शुरू होगी यात्रा

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 06:54 AM IST
सिम्बॉलिक इमेज सिम्बॉलिक इमेज

- मेडिकल करवाने के बाद जेएंडके बैंक में 50 रुपए में होगा रजिस्ट्रेशन

चंडीगढ़. भोले बाबा के दर्शन के लिए बाबा के भक्तों ने यात्रा की तैयारी शुरू कर दी है। बाबा बर्फानी के दर्शनों के लिए ट्राईसिटी से पहले दिन लगभग 1000 से ज्यादा भक्त जाएंगे। वहीं, दूसरी तरफ भक्तों की सेवा के लिए चंडीगढ़ से शिव पार्वती सेवा दल ने बालटाल में अपने 12वें भंडारे की सेवा के लिए 9 ट्रक भंंडारे की सामग्री के रवाना कर दिए हैं।

यात्रा 28 से 27 अगस्त तक

- दल के प्रेसिडेंट राजेंद्र ने बताया कि बाबा के भक्त 28 जून से बाबा के दर्शनों के लिए अमरनाथ की यात्रा के लिए जाएंगे। भक्त बालटाल और पहलगांव से यात्रा शुरू करेंगे। बालटाल से यात्रा शुरू करने वाले भक्तों को 14 किलोमीटर और पहलगांव से 32 किलोमीटर चलकर जाना होगा।

- बालटाल से जाने वाले भक्तों को बाबा के दर्शनों के लिए लगभग 5 से 6 घंटे की यात्रा पैदल करनी होगी। कहा जाता है कि पहलगांव के रास्ते में वही सारे पड़ाव हैं जिस पड़ाव में भोले शंकर रुके थे और अमरनाथ गए थे, इसे पहले बैल गांव कहा जाता था।

ट्राईसिटी से यात्रा के लिए कई बसें जाएंगी...

- ट्राईसिटी से यात्रा के लिए कई बसें जा रही हैं। जिनके लिए 1 मार्च से ही रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुकी है। रजिस्ट्रेशन के पहले भक्तों ने मेडिकल भी करवाया है। मेडिकल श्री अमरनाथ शाईन बोर्ड द्वारा रिक्मेंड डॉक्टर्स से ही करवाना अनिवार्य है। यात्रा 28 जून से शुरू होगी, लेकिन हर श्रद्धालु अपनी डेट के अनुसार ही यात्रा के लिए जाएगा।

शिव पार्वती सेवा दल 28 जून से 27 अगस्त तक लगाएगा भंडारा

- श्री अमरनाथ शाईन बोर्ड से बालटाल में 28 जून से 27 अगस्त तक 12वां विशाल भंडारा शिव पार्वती सेवा दल की ओर से लगाया जाएगा। भंडारे में भक्तों को सुबह का ब्रेकफास्ट, लंच, शाम का सनेक्स और डिनर की व्यवस्था की गई है। डिनर के बाद भक्तों के लिए खिचड़ी, दलिया और पोहा दिया जाएगा। भंडारे में 100 सेवादार, 2 एंबुलेंस और डाक्टरों की टीम 24 घंटे मौजूद होगी।

7500 श्रद्धालुओं का कोटा किया गया तय
- बाबा के दर्शनों के लिए एक रूट से एक दिन में लगभग 7500 श्रद्धालु ही जाएंगे। बोर्ड की तरफ से ट्राईसिटी को 7500 श्रद्धालुओं का कोटा तय किया गया है। श्रद्धालुओं को बालटाल तक पंहुचने के लिए बस से 36 घंटे लग जाएंगे। वहीं बाबा के दर्शनों के लिए 5 से 6 घंटे लगेंगे। ट्राईसिटी से जाने वाली बसों में 3000 से 3500 रुपये तक किराया लिया जा रहा है।

दर्शनों के लिए जा रहे हैं तो ये ध्यान रखें...
- पैरों के नाखून काट कर जाएं, यात्रा करते हुए खाई की तरफ नहीं बल्कि पहाड़ी की तरफ चलें, गणेश टाॅप पर बर्फ से न खेलें, गर्म कपड़े लेकर जाएं।

X
सिम्बॉलिक इमेजसिम्बॉलिक इमेज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..