Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» Airport Can Be Closed For 15 Days

15 दिन के लिए एयरपोर्ट फिर हो सकता है बंद, ये है कारण

काॅन्ट्रैक्टर ने कहा था कि अभी एयरपोर्ट बंद करने का समय बढ़ा दें तो दोबारा बंद करने की जरूरत नहीं पड़ेगी

चेतन भगत | Last Modified - Feb 15, 2018, 07:20 AM IST

  • 15 दिन के लिए एयरपोर्ट फिर हो सकता है बंद, ये है कारण

    चंडीगढ़. रनवे पर फाइनल री-कारपेटिंग का काम पूरा करने के लिए चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट एक बार फिर 14 मई से दो हफ्ते के लिए बंद रह सकता है। इससे पहले फाइनल री-कारपेटिंग का काम दिसंबर में पूरा करने की प्लानिंग थी। अभी 12 फरवरी से 26 फरवरी के बीच रनवे अपग्रेडेशन और आईएलएस अपग्रेडेशन का काम चल रहा है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अधिकारियों के मुताबिक रनवे अगले विंटर से पहले ही तैयार करना जरूरी है। इसलिए यह समय सही है। समर में आईएलएस अपग्रेडेशन का काम चलता रहेगा। ऐसे में इस साल विंटर में फॉगी वेदर के दौरान फ्लाइट ऑपरेशन स्मूथ हो जाएगा।

    रनवे की स्ट्रेंथ बढ़ने से लंबी दूरी और बड़े जहाज हो सकेंगे ऑपरेट

    रनवे की स्ट्रेंथ को मजबूत करने के लिए पेवमेंट क्लासिफिकेशन नंबर (पीसीएन) की जानी है। इसके होने के बाद चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 250 से 380 सीटर बोइंग-777 जैसे बड़े विमान लैंड हो सकेंगे। इसके अलावा लंबी दूरी के विमान भी आसानी से ऑपरेट हो जाएंगे। लंबी दूरी के जहाज के लिए एयरपोर्ट की लंबाई 9 हजार फीट से बढ़ाकर 10400 फीट की जा रही है।

    कोर्ट ने भी पूछा था

    चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रनवे की री-कारपेटिंग और अपग्रेडेशन का काम क्यों न एक साथ पूरा कर लिया जाए, ये बात पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने भी केंद्र और एयरपोर्ट अथॉरिटी से पूछी थी। कोर्ट ने कहा था कि 12 फरवरी की मीटिंग कर इस बारे में अंतिम निर्णय लेकर अदालत को अवगत कराएं। कोर्ट ने यह सवाल कॉन्ट्रैक्टर की उस दलील पर किया जिसमें कहा कि 12 से 26 फरवरी तक एयरपोर्ट बंद करने के समय में यदि एक सप्ताह की बढ़ोतरी की जाए तो काम समय से पहले पूरा किया जा सकता है।

    25 मार्च से बढ़ जाएगा एयरपोर्ट का टाइम

    रनवे अपग्रेडेशन के चलते 3 अक्टूबर से 31 मार्च तक एयरपोर्ट से फ्लाइट ऑपरेशन का समय सुबह 5 से शाम 4 बजे तक किया हुआ था। पर एयरपोर्ट अथॉरिटी ने सभी एयरलाइंस को 25 मार्च से अपनी फ्लाइट्स को शाम 5.30 बजे तक ऑपरेट करने को कहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×