--Advertisement--

फ्रेंडस ने रूम में देखा तो लटकी रही थी फंदे से, मां ने बताई ये सच्चाई

गर्ल्स कॉलेज की स्टूडेंट की मौत के मामले में पैरेंट्स ने लगाए आरोप

Danik Bhaskar | Feb 20, 2018, 12:26 AM IST

चंडीगढ़. सेक्टर-42 की में रहने वाली एक स्टूडेंट ने फांसी लगाकर सुसाइड कर ली। बता दें कि लड़की अंबाला की रहने वाली थी और यहां होस्टल में रहकर पढ़ाई कर रही थी। पैरेंट्स का कहना था कि उनकी बेटी सुसाइड नहीं कर सकती, उसका मर्डर हुआ है, जिसे कॉलेज मैनेजमेंट सुसाइड बताकर अपना बचाव कर रहा है।

नहीं दिया बेटी का फोन
- लड़की की फ्रेंड्स जब कमरे गईं तो भावना चुन्नी से पंखे से लटकी हुई है।

- फिर फ्रेंड्स ने स्टॉफ को इस घटना के बारे में बताया था।

- भावना के पिता ने कहा कि जब वे चंडीगढ़ पहुंचे तो उन्हें उसका मोबाइल तक नहीं दिया गया।
- कॉल किया तो नंबर स्विच ऑफ मिला लेकिन रात को 2 बजे के आसपास भावना के नंबर पर घंटी गई।
- उनके मोबाइल पर यह मैसेज भी आया कि अब भावना का फोन ऑन है।
- भावना के वॉट्सएप पर जो दोपहर को फोटो थी, वह रात को बदल गई।
- घरवालों ने शक जताया कि किसी ने बेटी के फोन से छेड़छाड़ की है, हो सकता है कि सबूत मिटाए गए हों।

मैंने वार्डन की कम्प्लेंट करने आज आना था : मां

- भावना की मदर संगीता ने बताया कि उनकी बेटी अकसर बताया करती थी कि मुझे वार्डन बहुत परेशान करती है।
- रविवार को जब फोन किया था तो मैंने उससे कहा था कि मैं सोमवार को कॉलेज आकर प्रिंसिपल से वार्डन की शिकायत करूंगी, लेकिन क्या पता था कि सोमवार आएगा ही नहीं।
- हमें शक है कि कॉलेज इसमें जरूर कुछ छुपा रहा है इसलिए हॉस्टल में छुट्टी कर दी गई है।
- ये सभी बातों से यही लगता है कि उसका मर्डर किया गया है।

फ्रेंडस के फोन ऑफ

- पैरेंट्स का आरोप है कि इस घटना के बाद से कॉलेज उनके साथ किसी भी तरह का सहयोग नहीं कर रहा।
- हमें भावना की हॉस्टल वाली फ्रेंड्स से प्रिंसिपल ने मिलने नहीं दिया।
- इस घटना से जुड़े लोगों को छुपाया जा रहा है।
- हॉस्टल की सभी गर्ल्स के मोबाइल स्विच ऑफ करवा दिए गए हैं क्योंकि हम उनसे बात करना चाहता हैं।

पैरेंट्स ने पीटा इलेक्ट्रिशियन

- पैरेंट्स कॉलेज पंहुचे तो गेट के सामने ही इलेक्ट्रिशियन कैमरे को चेक कर रहा था।
- पैरेंट्स ने अपना गुस्सा उस पर उतारते हुए उसको जमकर पीटा। उन्होंने कहा कि हमारी बेटी का मर्डर करने के बाद अब कैमरा उतार रहे हो।

मोहाली में रहने वाले रिश्तेदारों को भी नहीं बुलाया
- भावना की बुआ मोहाली में रहती हैं। उन्होंने कहा कि इससे पहले जब भी भावना को कोई दिक्कत होती तो कॉलेज की तरफ से हमें फोन आता। फिर आखिर इस बार उन्हें क्यों नहीं बताया गया। कॉलेज प्रबंधन कुछ न कुछ छिपा रहा है।

पुलिस भी नहीं कर रही जांच

- घरवालों ने आरोप लगाया कि पुलिस कॉलेज के दबाव में है, इसलिए कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। उनकी बेटी बहुत समझदार थी, वह सुसाइड नहीं कर सकती।
- पिता ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी को परेशान किया जा रहा था। यह बात बेटी ने खुद मुझे फोन करके बताई थी।
- कहा था कि उसे बाहर नहीं जाने दिया जा रहा। पुलिस अगर मामले की जांच सही तरीके से करे तो सच्चाई सामने आएगी।