--Advertisement--

सेक्सुअल हैरासमेंट, लेक्चरर-लैब अटेंडेंट पर केस

तीन गर्ल्स को मॉलेस्ट करने, सेक्सुअली हैरास और मेंटली टॉर्चर करने का था आरोप

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 07:36 AM IST
सांकेतिक तस्वीर। सांकेतिक तस्वीर।

चंडीगढ़. शहर के एक गवर्नमेंट स्कूल में एक लेक्चरर और एक वर्कशॉप अटेंडेंट ने 11वीं क्लास की तीन गर्ल्स स्टूडेंट्स को मॉलेस्ट किया, सेक्सुअली हैरास किया और मेंटली टॉर्चर किया गया। इसकी खबर चंडीगढ़ भास्कर में 21 दिसंबर को छपी थी। इस मामले के उजागर होने के बाद जनवरी में एजुकेशन सेक्रेटरी ने पुलिस को केस दर्ज करने के लिए अप्रूवल दे दी थी। इसके बाद अब चंडीगढ़ पुलिस ने केस दर्ज किया है। मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी के लेक्चरर व क्लास टीचर बिमल कुमार और इसी लैब में वर्कशॉप अटेंडेंट गुरमेज सिंह के खिलाफ आईपीसी के सेक्शन 354 A के तहत छेड़छाड़ और पॉक्सो के एक्ट की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। अभी इन दोनों को गिरफ्तार नहीं किया गया है। तीन लड़कियों ने स्कूल प्रिंसिपल को दोनों के खिलाफ शिकायत दी थी। इसके बाद यूटी एजुकेशन डिपार्टमेंट ने जांच बैठाई और दोनों को इसमें दोषी पाए जाने के बाद उन्हें सस्पेंड कर दिया गया है। डिपार्टमेंट ने दोनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के लिए चंडीगढ़ पुलिस को लिखा।

यह करता था

एजुकेशन डिपार्टमेंट की जांच रिपोर्ट के मुताबिक बिमल कुमार तीनों लड़कियों को अलग अलग स्टोर रूम में पड़ी अलमारी के अंदर रजिस्टर रखने और लाने के लिए कहता था। इसी दौरान वह लड़कियों को पकड़कर अलग-अलग तरह से मॉलेस्ट करता था।

पहली लड़की ने यह कहा...जांच रिपोर्ट के मुताबिक पहली लड़की ने बताया कि बिमल कुमार उन्हें जान से मार देगा या फेल कर देगा अगर उसने बिमल को सेक्सुअली सेटिस्फाई नहीं किया। उसने छेड़छाड़ भी की।

दूसरी लड़की ने यह कहा... जांच रिपोर्ट के मुताबिक दूसरी लड़की ने बताया कि 20 फरवरी 2017 को बिमल कुमार ने प्रैक्टिकल के बाद उसे लैब स्टोर रूम में रखी अलमीरा के अंदर नोट्स को ढूंढने के लिए बुलाया। इसी बहाने उसे पीछे से पकड़कर मॉलेस्ट किया गया। तीसरी लड़की के साथ भी उसने ऐसा ही किया। गुरमेज सिंह को इन सब बातों का पता था। उसने तीनों लड़कियों से कहा था कि अगर वह एग्जाम में पास होना चाहती हैं तो बिमल कुमार जो डिमांड कर रहे हैं उसे पूरा कर दो।

हमने दोनों के खिलाफ आईपीसी के सेक्शन 354 A और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। इससे ज्यादा अभी कुछ नहीं कहा जा सकता क्योंकि मामला नाबालिग लड़कियों से जुड़ा है और सैंसटिव है।
-निलांबरी जगदाले, एसएसपी, चंडीगढ़ पुलिस

X
सांकेतिक तस्वीर।सांकेतिक तस्वीर।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..