--Advertisement--

पत्नी को नहीं था यकीन, मॉर्चरी के बाहर लोगों से कहती रही-बुलाओ पति को..

पीसीआर में इलाज के लिए हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

Danik Bhaskar | Jan 08, 2018, 11:59 PM IST

चंडीगढ़. सेक्टर-41, 42 की डिवाइडिंग रोड पर एक्टिवा स्किड होने के बाद रोहित को पीसीआर में इलाज के लिए हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वहीं पुलिस भी मौके पर पहुंची और मृतक की पहचान करने के बाद उनके घरवालों और कई अन्य को फोन पर हादसा होने की जानकारी दी गई।पुलिस ने किसी को यह नहीं बताया कि वह पूरे हो चुके है ताकि कहीं कोई घबरा न जाएं। इसके बाद एक एक कर रोहित के घरवाले और उनके कॉलेज में काम करने वाले सभी लेक्चरर मौके पर पहुंचे। वहीं रोहित की पत्नी शाइना भी अस्पताल पहुंची, लेकिन उन्हें यह नहीं मालूम था कि रोहित की मौत हो चुकी है।


गवर्नमेंट टीचर हैं राेहित की पत्नी

- रोहित की पत्नी शाइना एक सरकारी स्कूल में टीचर है। घर में दोनों के अलावा एक चार साल का बेटा भी है।

- पुलिस ने सोमवार को ही मृतक के शव का पोस्टमाॅर्टम करवाया जिसके बाद रोहित के शव को हिसार उनके पैतृक गांव लेकर जाया गया, जहां पर शाम तक शव का संस्कार कर दिया गया।

रोते हुए फोन पर रिश्तेदारों से करती रही शिकायत..
- हादसे में सोमवार सड़क हादसे में मरने वाले हादसे की जानकारी मिलने पर रोहित की पत्नी शाइना भी जीएमएसएच-16 पहुंचीं।

- यहां पर उन्हें कुछ भी नहीं बताया गया। इसके बाद सभी मॉर्चरी के बाहर बैठे हुए थे जहां पर रोहित की पत्नी लगातार रोते हुए रिश्तेदारों से फोन पर बात कर रही थी और बोल रही थी कि मॉर्चरी के बाहर बैठे हुए लोग उन्हें उनके पति से मिलने नहीं दे रहे हैं।