--Advertisement--

बेटी का गिफ्ट किया डायमंड सेट भी ले गए चोर, तीन साल से है कोमा में

बगैर वेरिफिकेशन रखे नौकर ने 3 दिन बाद ही रिटायर्ड कर्नल, उनकी पत्नी को जहर देकर लूटा

Dainik Bhaskar

Dec 23, 2017, 04:24 AM IST
Colonel looted karnal and his wife with poison

खरड़. कोठी नंबर 578 में 72 साल के रिटायर्ड कर्नल सुखदेव सिंह और उनकी 70 साल की पत्नी गुरजीत कौर को उनके नौकर और साथियों ने खाने में जहर देकर लूट लिया। नौकर धीरेंद्र शाही को 17 दिसंबर को नौकरी पर रखा गया था। उसने साथियों के साथ मिलकर 20 दिसंबर को वारदात को अंजाम दिया। आरोपी घर से ढा़़ई लाख की नकदी, 20 तोले सोने के गहने, दो आईफोन ले गए हैं। बुजुर्ग दंपती ने शाही की पुलिस वेरिफिकेशन नहीं कराई थी। दोनों को अस्पताल से छुट्टी िमल गई है, लेकिन तबीयत पूरी तरह ठीक नहीं हुई है। इसीलिए पुलिस ने अभी उनके बयान नहीं लिए हैं, ही कोई केस दर्ज किया है। िरटायर्ड कर्नल सुखदेव िसंह ने बताया कि वह पत्नी गुरजीत और 11 साल के नाती अमन के साथ पिछले 5 साल से इस कोठी में रह रहे हैं।

जिसे पत्नी बताकर लाया, वह कोई और
वारदातसे एक िदन पहले रात डेढ़ बजे शाही ने सरिता को पीटा था। उसी रात सरिता ने बुजुर्ग दंपती को बताया कि शाही उसका पति नहीं है। वह अपने जीजा के कहने पर यहां दो दिन के लिए आई है। बुजुर्ग दंपती इस बात को हल्के में ले गए। सरिता ने अपने मां-बाप से दंपती की बात भी कराई। अगले दिन जीजा सरिता को ले गया। रात को दोबारा सरिता के साथ उसका सामान लेने आया। पुलिस को शक है कि शाही के साथ इन लोगों ने मिलकर

वारदात को अंजाम दिया है।

हाथ से उतार रहा था चूड़ी, उठ गईं गुरजीत
सोतेहुए गुरजीत कौर को एहसास हुआ कि कोई उनके हाथ से सोने की चूड़ियां उतार रहा है। वह उठ गईं तो देखा शाही चूड़ी उतार रहा था। शाही ने उन्हें धमकाया और दूसरे कमरे में चला गया। गुरजीत उठीं तो देखा कि दरवाजे के पास एक गंजा आदमी खड़ा था, िजसने उन्हें धक्का िदया। वह गिर गईं। फिर किसी तरह उठीं तो एक आरोपी से उनकी हाथापाई हुई। इसके बाद वह बेसुधी की हालत में ही सामने रहने वाली बहन के घर गईं। इसके बाद आसपास के लोग आए, लेकिन तब तक शाही और उसके साथी भाग चुके थे।

जब होश आया तो हॉस्पिटल में थे
जबगुरजीत को होश आया तो वह सििवल अस्पताल खरड़ में थीं। वहीं उनके पति सुखदेव भी बेहोश पड़े थे। आरोपी जाते समय सुखदेव के सारे कपड़े भी उतार गए थे।

20 दिसंबर
वारदात की रात...20 दिसंबर को शाही ने सब्जी काटी और यह कहकर चला गया कि पुराने मािलक से कुछ िहसाब करने जा रहा है। उन्होंने वही सब्जी बनाकर खाई, तब तक सब ठीक था। रात को शाही वापस आया। खाना खाने के बाद सुखदेव अपने नाती अमन के साथ सो गए। गुरजीत टीवी देखने लगीं, तब उनकी आंख लग गई। गुरजीत कौर के मुताबिक अमन बीमार था इसलिए उसने खाना नहीं खाया था। उसे घी-शक्कर मिलाकर खिलाया था और खुद भी खाया था। इसलिए खुद रात का खाना कम खाया।

17 दिसंबर
नौकर रखा...17िदसंबर को पास ही रहने वाले एक नेपाली युवक ने गोरखा धीरेंद्र शाही से मिलवाया था। शाही ने खुद को शादीशुदा बताकर नौकरी मांगी। उन्हें कुक की जरूरत थी, इसलिए उसे नौकरी पर रख लिया। उसी शाम को शाही एक महिला सरिता उर्फ मीना थापा को अपनी पत्नी बताकर ले आया।

बुजुर्ग दंपती के अनुसार घर आकर उन्होंने देखा िक लॉकर टूटे हुए थे। इनमें रखे ढाई लाख रुपए और 20 तोले सोने और डायमंड की ज्वेलरी गायब थी। वहीं, गुरजीत कौर के हाथों से सोने की चार चूड़ीयां, सोने का कड़ा एपल के दो मोबाइल भी आरोपी ले गए थे। गुरजीत कौर ने रोते हुए बताया कि उनकी बड़ी बेटी ब्रेन हैमरेज के बाद 3 साल से कोमा में है। इसी बेटी ने गिफ्ट के तौर पर स्वारोस्की डायमंड का सेट दिया था। आरोपी यह सेट भी ले गए हैं।

अभी बयान देने के लिए मेडिकली फिट नहीं है दंपती
मामले में अभी तक बुजुर्ग दंपती के बयान नहीं लिए जा सके हैं। दोनों बयान देने के लिए अभी मेडिकली फिट नहीं हैं। इनके बयान लेने के बाद ही केस दर्ज किया जाएगा और तभी पता चलेगा कि वारदात में कुल कितने लोग शामिल हैं। हालांकि पुलिस की जांच जारी है। -राजेशहस्तीर, एसएचओसटी

िवदेश में बैठे बेटे ने करवाया मोबाइल ट्रेस.
दंपती का बेटा प्रभदीप अमेिरका में रहता है। प्रभदीप ने वहीं से एपल आईडी की मदद से माता-पिता का फोन ट्रेस किया और लोकेशन मैप यहां की पुलिस को भेजा। लेकिन पुलिस इस मैप को समझ नहीं पाई। इसके बाद प्रभदीप ने ऐसा मैप भेजा जो उस दिशा में नेविगेट कर रहा था जहां चोरी गया मोबाइल मौजूद था। पुलिस उस दिशा में बढ़ते हुए झुग्गियों तक पहुंची। यहां एक ट्रंक मंे बीप की आवाज होने पर उसे खुलवाया गया तो एपल का मोबाइल बरामद हो गया। पुलिस ने इस झुग्गी में रहने वाली महिला को राउंडअप किया है। महिला के मुताबिक उसे फोन सड़क पर गिरा हुआ िमला था।

X
Colonel looted karnal and his wife with poison
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..