Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» DC To Investigate Childbirth

बोरी में बंदकर बच्ची को पीटने के मामले में डीसी करेंगे जांच, 30 दिन में देनी है रिपोर्ट

मेनका गांधी से शिकायत... नेशनल कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स का फरमान

bhaskar news | Last Modified - Dec 19, 2017, 08:26 AM IST

  • बोरी में बंदकर बच्ची को पीटने के मामले में डीसी करेंगे जांच, 30 दिन में देनी है रिपोर्ट

    चंडीगढ़. 5 साल की बच्ची को उसकी सौतेली मां बोरी में डालकर पीटती थी। इस मामले में सौतेली मां गिरफ्तार हो चुकी है, जबकि बच्ची अपने पिता के पास सेक्टर-29 में है। सौतेली मां की क्रूरता की शिकायत संजीव गर्ग ने वुमन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट मिनिस्टर मेनका गांधी से की थी।

    अब नेशनल कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स ने चंडीगढ़ के डीसी को लेटर लिखकर जांच करने को कहा है। डीसी अजीत बालाजी जोशी को लिखे लेटर में कहा गया है कि इस केस में पुलिस की ओर से कोई खास कार्रवाई नहीं हुई है इसलिए डीसी खुद इसकी जांच करें और सभी तथ्यों के साथ 30 दिनों के अंदर रिपोर्ट कमीशन को सौंपें। अगर किसी अन्य आयोग ने इस मामले का संज्ञान लिया है तो उनके लेटर को भी जांच के साथ भेजें। यह लेटर कमीशन के मेंबर यशवंत जैन की ओर से डीसी को लिखा गया है।

    सौतेली मां हो चुकी है गिरफ्तार

    इस केस में बच्ची को पीटने का वीडियो सामने आने के बाद सौतेली मां फरार हो गई थी। पुलिस ने बाद में उसे गिरफ्तार किया। वह बेटी को तब पीटती थी जब पति घर से बाहर होता था। किसी ने मारपीट की वीडियो बनाकर बच्ची के पिता को सौंप दिया। पिता ने शिकायत दी लेकिन एक महीने तक पुलिस ने कुछ नहीं किया। इसका वीडियो मीडिया में आने के कुछ दिन बाद इंडस्ट्रियल एरिया थाना पुलिस ने केस दर्ज किया था। एफआईआर 75 जुवेनाइल जस्टिस एक्ट और मारपीट की धारा 323 के तहत दर्ज की गई है। बच्ची की मां की कैंसर से मौत हो गई थी। पिता ने दोबारा शादी कर ली।

    अंदर डालकर बोरी का मुंह कर दिया बंद

    वीडियो में नजर आ रहा था कि महिला बच्ची को बोरी में डालकर पीट रही थी। बच्ची का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने टॉयलेट आने की जानकारी सौतेली मां को नहीं दी थी। ऐसे ही एक और वीडियो में बच्ची के पैर में फ्रैक्चर होने के बावजूद महिला उसे पढ़ाई को लेकर तमाचे मार रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×