Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» Gosai Ketalkand In Chandigarh

गोसाईं कत्लकांड -जग्गी के मोबाइल में पाकिस्तान का भी नंबर, कई बार बात की

एनआईए ने कोर्ट में 35 नंबरों की लिस्ट पेश की, आरोपी 26 तक रिमांड पर।

bhaskar news | Last Modified - Dec 23, 2017, 03:59 AM IST

  • गोसाईं कत्लकांड -जग्गी के मोबाइल में पाकिस्तान का भी नंबर, कई बार बात की

    मोहाली.लुधियाना में आरएसएस नेता रविंदर गोसाईं के कत्ल में नामजद आरोपी जगतार िसंह उर्फ जग्गी जौहल को एनआईए ने शुक्रवार को मोहाली की स्पेशल एनआईए कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने आरोपी को 26 तक रिमांड पर भेज दिया। इससे पहले रिमांड देने के लिए एनआईए के वकील सुरिंदर सिंह परमार ने तर्क दिए कि आरोपी से जो मोबाइल बरामद हुआ है, उसमें कई अहम सबूत हैं। इसमें एक हैप्पी नाम के शख्स का भी नंबर है। उससे जग्गी जोहल की बहुत बार बात हुई है। इसके अलावा यह नंबर पाकिस्तान में चल रहा है।

    एनआईए ने कोर्ट में 35 मोबाइल नंबरों की लिस्ट पेश की जोकि जग्गी के साथ ज्यादा संपर्क में रहे हैं। इन संदिग्ध नंबरों की एनआईए जांच कर रही है। इसके अलावा कुछ डॉक्यूमेंट्स भी पेश किए हैं जोकि सबूत देते हैं कि जग्गी का भी गोसाईं कत्लकांड में पूरा हाथ है।

    शेरा कैनेडियन से पूछताछ के बाद जग्गी को नामजद किया
    17 अक्टूबर 2017 काे लुधियाना में आरएसएस नेता रविंदर गोसाईं की गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी। इस केस की जांच एनआईए ने अपने हाथ में लेकर हरदीप सिंह उर्फ शेरा तथा रमनदीप सिंह उर्फ कनेडियन को गिरफ्तार किया था। आरोपियों से पूछताछ करने के बाद एनआईए ने इस मामले में जगतार सिंह उर्फ जग्गी जोहल को भी नामजद किया है। जग्गी जोहल पर आरोप है कि उसने कातिलों की विदेश में बैठकर मदद की थी और वहां से उन्हें कत्ल में इस्तेमाल होने वाले हथियान खरीदने के लिए पैसे भी भेजे थे।

    एनआईए ने कहा, फंडिंग बारे पूछना है
    एनआईएने कोर्ट में यह भी कहा कि आरोपी जग्गी से पूछताछ करनी है कि उसके अलावा किस-किस ने विदेश से फंड ट्रांसफर किया या शूटर हरदीप शेरा और रमनदीप कनेडियन की मदद की।

    डिफेंस ने कहा, जग्गी मानसिक परेशान, पहले इलाज करवाएं
    रिमांडपर लेने के लिए एनआईए के तर्क पर डिफेंस के वकील जसपाल सिंह मंझपुर ने कोर्ट में कहा, आरोपी जग्गी की मानसिक स्थिति इस समय ठीक नहीं है। वह मानसिक रूप से काफी ज्यादा थका हुआ है। इसलिए पहले उसका किसी साइकैटरिस्ट से इलाज करवाया जाए। डिफेंस की इस एप्लिकेशन पर काेर्ट ने एनआईए से 26 दिसंबर तक जवाब मांगा है इसके अलावा आरोपी को भी 26 तक रिमांड पर भेज दिया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Chandigarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Gosai Ketalkand In Chandigarh
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×