--Advertisement--

शराब पीकर न करें ड्राइव, ऐसा हो साल के पहले दिन कोर्ट में खड़े रहना पड़े

मोबाइल एप्लीकेशन के जरिये ड्राइवर को मौके पर बुला सकते हैं जो उन्हें उनकी गाड़ी समेत घर छोड़ आएगा।

Dainik Bhaskar

Dec 31, 2017, 04:49 AM IST
Have to stand in court on the first day of the year

चंडीगढ़. न्यू ईयर को अब महज एक दिन का समय बचा है और पूरी ट्राईसिटी में जश्न का माहौल है। ऐसे में लोग शराब पीएं, ऐसा हो ही नहीं सकता। इसलिए लोगों को ड्रंकन ड्राइविंग के चालान से बचाने के लिए एक मोबाइल एप्लीकेशन शुरू की गई है, जिसमें ड्राइवर ऑन कॉल सर्विस है। यानी लोग अगर खुद गाड़ी नहीं चला सकते तो वे इस मोबाइल एप्लीकेशन के जरिये ड्राइवर को मौके पर बुला सकते हैं जो उन्हें उनकी गाड़ी समेत घर छोड़ आएगा।

ये एप्लीकेशन शुरू की है शहर के बिजनेसमैन अरुण गोयल ने। उनकी इस एप्लीकेशन ‘जय स्मार्ट आइडिया’ में ड्राइवर ऑन कॉल का ऑप्शन दिया गया है। गोयल का कहना है कि इस सर्विस का मकसद सिर्फ लोगों को चालान से बचाना ही नहीं है, इससे सड़क हादसों को भी काफी हद तक रोका जा सकता है। गोयल का कहना है कि ज्यादातर सड़क हादसे शराब पीकर गाड़ी चलाने से होते हैं और लोग अगर इस सर्विस को इस्तेमाल करें तो सड़क हादसे भी कम होंगे। गोयल ने बताया कि उनकी इस सर्विस में अब तक करीब 50 ड्राइवर जुड़ चुके हैं जिनकी प्रॉपर वेरिफिकेशन भी की गई है। लोग इस एप्लीकेशन में अपना मोबाइल नंबर, गाड़ी का नंबर और लोकेशन लिख कर सेंड करेंगे। जिसके बाद लोगों को ड्राइवर का नंबर मिल जाएगा और वे उसे अपनी गाड़ी चलाने के लिए हायर कर सकेंगे।


महिलाओं के लिए पिक एंड ड्रॉप फैसिलिटी
रात को कोई महिला किसी भी परेशानी में है और अकेली है तो उसके लिए पिक एंड ड्रॉप फैसिलिटी का इंतजाम किया गया है। 9 पीसीआर शहर के अलग-अलग जगहों पर तैनात होंगी, जिसमें लेडी कॉन्स्टेबल होंगी। किसी परेशानी पर 100 या 1091 नंबर डायल कर पुलिस की मदद ले सकते हंै।

शुक्रवार को ड्रंकन ड्राइव के हुए 80 चालान
पुलिस ने शुक्रवार रात को अलग-अलग जगहों पर शराब पीकर गाड़ी चला रहे कुल 80 लोगों के ड्रंकन ड्राइव के चालान काटे। इन नाकों के अलावा भी अगर पुलिस किसी को शराब पीकर गाड़ी चलाते हुए पकड़ती है तो 185 मोटर व्हीकल एक्ट के तहत कार्रवाई होगी, जिसमें 6 महीने तक की सजा का प्रावधान है। रविवार को भी शहर में जगह जगह पुलिस की ओर से ड्रंकन ड्राइव के नाके लगाए जाएंगे। इस दौरान हर आने जाने वाले की चेकिंग की जाएगी। जो लोग शराब पीकर गाड़ी चलाते पाए जाएंगे, उनके ड्रंकन ड्राइव के चालान काटे जाएंगे।

लोगों से अपील है कि खुद भी सेफ रहंे और दूसरों को भी सेफ रखें। अगर शराब पी रखी है तो घर जाने के लिए किसी और ड्राइवर का इंतजाम कर लें। अगर ऐसे शख्स नाकों को पार करने में कामयाब हो भी जाते हैं तो यह सोचें कि बड़ा काम किया है, बल्कि अपनी जिंदगी को खतरे में डाला है। -शशांकआनंद, एसएसपी ट्रैफिक

रविवार को नए साल के वेलकम के दौरान कई वाॅयलेशंस चंडीगढ़ में होती है। इसमें से एक ये कि तय समय के बाद भी शराब ठेकों पर साल के आखिरी दिन लिकर सेल होती है। कहने को शराब ठेकों के शटर बंद होते हैं, लेकिन कोई आवाज लगाए तो आराम से शराब इन ठेकों से दे दी जाती है। लेकिन इस बार ऐसा करने पर शराब का ठेका सील भी हो सकती है और अच्छी खासी पेनल्टी भी लग सकती है। दरअसल इसको लेकर चंडीगढ़ प्रशासन के एक्साइज एंड टेक्सेशन डिपार्टमेंट की तरफ से ठेकेदारों को कहा भी है कि तय टाइम के बाद लिकर सेल करंे।

रात 11 बजे तक ही लिकर सेल की परमिशन ठेकों पर होती है, लेकिन ज्यादातर ठेकों पर इसके बाद भी लिकर सेल की जाती है। इसको लेकर एक्साइज एंड टेक्सेशन डिपार्टमेंट यूटी चंडीगढ़ की टीमें भी बनाई गई हैं जो सरप्राइज चैकिंग ठेकों की करेगी और अगर कहीं भी तय समय के बाद रात को लिकर सेल करते हुए कोई पाया जाता है तो उसका मौके पर चालान काटा जाएगा और हियरिंग के बाद उस पर पेनल्टी या ठेके को सील किए जाने की कार्रवाई की जाएगी। चंडीगढ़ में करीब 75 शराब ठेके ठेके हैं।

X
Have to stand in court on the first day of the year
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..