--Advertisement--

चंडीगढ़-मोहाली में पहरे में पद्मावत पंचकूला में रिलीज ही नहीं की गई

29 लाख की कलेक्शन दर्ज हुई। जो देर रात तक 40 लाख तक पहुंच जाएगी।

Danik Bhaskar | Jan 26, 2018, 07:15 AM IST

चंडीगढ़/पंचकूला/मोहाली. चंडीगढ़ और मोहाली में वीरवार को पुलिस के पहरे में पद्मावत रिलीज हो गई, लेकिन पंचकूला में ये मूवी रिलीज नहीं हो पाई। इस मूवी के चलते पहले ही पंचकूला में धारा-144 लागू कर दी गई थी। शहर के फिल्म रिप्रजेंटेटिव व डिस्ट्रीब्यूटर राज जुनेजा ने बताया कि पद्मावत के ट्राईसिटी में 153 शो चलने तय थे। शाम तक फिल्म के शोज से 29 लाख की कलेक्शन दर्ज हुई। जो देर रात तक 40 लाख तक पहुंच जाएगी।

सुबह फिल्म को लेकर दर्शकों का रिस्पाॅन्स धीमा रहा। शोज में 25-30 फीसदी ऑक्यूपेंसी रही। वहीं पिकाडली और एलॉन्ते माॅल में अच्छा रिस्पाॅन्स रहा। जैसे-जैसे लोगों को धीरे-धीरे पता लगा कि फिल्म शहर में रिलीज हुई है तो वह इसे देखने के लिए पहुंचे। शाम होते होते ट्राईसिटी में 70-75 फीसदी ऑक्यूपेंसी दर्ज की गई।


जीरकपुर के पारस माॅल में फिल्म के प्रति विरोध जताने के लिए कुछ लोग हल्ला-गुल्ला करने पहुंचे पर कोई शो कैंसिल नहीं हुआ। उन लोगों ने संजय लीला भंसाली का पुतला फूंका भी। पिकाडली मॉल में दोपहर तीन बजे का शो टेक्निकल परेशानी के चलते देरी से शुरू हुआ। इस बात से खफा होकर छह लोगों ने अपनी रिफंड की मांग की तो उन्हें उनकी टिकट के पैसे वापस भी किए। बाकि सभी जगह सभी शो आराम से चले।

60% िटकटे ही िबकी

वीआर पंजाब मॉल में विवादित बॉलीवुड िफल्म पद्मावत के 32 शोज थे। जबकि इस फिल्म का पेड प्रीव्यू बुधवार शाम 6 बजे से शुरू हुआ था। इस दौरान 3 स्क्रीनों पर कुल 6 शो दिखाए गए थे। ये सभी 6 शो हाउसफुल रहे। लेकिन वीरवार को मात्र 60 प्रतिशत ही सीट फुल हो पाईं। हालांकि किसी भी प्रकार का कोई विरोध देखने को नहीं मिला। जो लाेग फिल्म देखने पहुंचे वह फिल्म को देख उत्साहित थे ।

मैं इन दिनों किसी काम से भारत आया हूं। इस फिल्म को देखने के लिए खासतौर पर यहां पहुंचा हूं। इस फिल्म में कुछ भी विवादित नजर नहीं आया। - जरनैल िसंह, दिव्यांग, एनआरआई