--Advertisement--

प्रमोशन के 3 दिन बाद वर्दी पर लगा दाग, महिला के साथ किया था ऐसा

रिश्वत मामले में फंसे एएसआई ने कहा कि उन्हें फंसाया जा रहा है।

Danik Bhaskar | Dec 28, 2017, 03:48 AM IST

कपूरथला. 16 साल बाद हेड कांस्टेबल से एएसआई बने सतनाम सिंह पत्तड़ 10 हजार की रिश्वत लेने के आरोप में पकड़े गए हैं। 24 दिसंबर को उन्हें पंजाब पुलिस के डीजीपी के निर्देश पर एसएसपी संदीप शर्मा ने अच्छी सेवाएं देने के लिए उन्हें पदोन्नत किया था। रिश्वत मामले में फंसे एएसआई ने कहा कि उन्हें फंसाया जा रहा है।

स्थानीय पुलिस लाइन में 24 दिसंबर को आयोजित प्रोग्राम पेंशनर डे मौके पर एसएसपी संदीप शर्मा ने विभाग में अच्छी सेवाओं को देने के बदले सतनाम सिंह पत्तड़ को एएसआई का स्टार लगाया था। लेकिन, प्रमोशन के तीन दिन बाद ही सतनाम सिंह रिश्वत लेने के मामलें में फंस गए ।


बीते दिनों शहर में बढ़ रही चोरी की वारदातों से परेशान होकर थाना सिटी की पुलिस ने चोरी के मामले को सुलझाने के लिए सीआईए स्टाफ की टीम का सहारा लिया था। इसी टीम में सतनाम सिंह पत्तड़ भी शामिल था। चोरी की वारदातों को सुलझानें में सतनाम सिंह पत्तड़ का खास योगदान माना जा रहा था। इसी योगदान के लिए उन्हें सम्मानित व पदोन्नत किया गया था।

24 दिसंबर को हेडकांस्टेबल से एएसआई बना था सतनाम

24 दिसंबर को स्थानीय पुलिस लाइन में पैंशनर डे मनाया गया था। इस समागम में एसएसपी संदीप शर्मा मुख्यातिथि के तौर पर पहुंचे थे जहां पर एसएसपी ने हेड कांस्टेबल सतनाम सिंह को अच्छी सेवाएं देने के बदले एएसआई का स्टार लगाकर पदोन्नत किया था। उसी दिन कोतवाली थानें में मुकद्दमा नंबर 393 के एनडीपीएस एक्ट के मामले की जांच सतनाम सिंह पत्तड़ के पास आ गई।