चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

पति के सिर पर पिस्टल, पत्नी की गर्दन पर तलवार, फिर ऐसे हुए चोरी में नाकाम

अकेले रहने वाले रिटायर्ड बैंकर दंपती की सूझबूझ से घर में घुसकर लूट की कोशिश नाकाम

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2018, 05:31 AM IST
Pistol on husbands head

मोहाली. मोहाली फेज-7 में रहने वाले 64 साल के प्रीतपाल सिंह सोबती और उनकी 62 साल की पत्नी एलके सोबती से घर में घुसकर लूटपाट की कोशिश हुई। घटना रविवार रात की है। इस रिटायर्ड बैंकर दंपती की हिम्मत और सूझबूझ से लुटेरे अपने इरादे में कामयाब नहीं हो सके। जब लुटेरों ने दंपती को पिस्टल और कीरच के दम पर बंधक बनाया तो एलके सोबती ने शोर मचाते हुए कहा- हैप्पी बाहर आ। हैप्पी उनके भाई का नाम है। लुटेरों ने समझा कि घर पर कोई तीसरा भी है तो भाग खड़े हुए। जबकि वारदात के वक्त घर पर बुजुर्ग पति-पत्नी ही थे। प्रीतपाल के मुताबिक दोनों लुटेरे दुबले-पतले, 22-23 साल के लग रहे थे।


एसएचओ मटौर थाना जरनैल सिंह के मुताबिक इनके घर का दरवाजा खुला रहा गया था, दो नशेड़ियों ने इसका फायदा उठाना चाहा। हमारे पास शिकायत आई है, अासपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है कि कहीं से कोई क्लू मिल सके।

प्रीतपाल के मुताबिक- हम रिशतेदारों के पास अमृतसर गए हुए थे। रविवार रात करीब सवा 8 बजे घर पहंुचे थे। गेट अंदर से बंद कर दरवाजा बंद कर लिया था। पानी पीने के बाद पत्नी ने कहा कि थक गई है, 10 मिनट लेट जाती है, फिर डिनर बनाएगी। मैं सामान सेट करके ड्रॉइंग रूम के सोफे पर बैठ पैसे गिन रहा था। रात करीब 8.30 बजे का टाइम था, बाहर गली में कोई हॉर्न बजा रहा था। बाहर जाकर देखा तो पड़ोसी लड़का अपने घर के बाहर गेट खोलने के लिए हॉर्न बजा रहा था। वापस आकर मैं ड्रॉइंगरूम में बैठा और जेब में पड़ा कैश गिनने लगा। इस बार दरवाजा बंद नहीं किया था। तभी दो लड़के अंदर आ गए, उनके चेहरे पर क्लीनिकल मास्क था। मैंने सोचा लैब से ब्लड सैंपल लेने आए हैं। मैंने पूछा आप लोगों को सोमवार सुबह आना था, इस समय रात को क्यों आए हो?


तभी आगे वाले लड़का मेरी तरफ बढ़ा और पीछे छिपाई पिस्टल मेरी कनपटी पर रखकर बोला- चिल्लाया तो गोली मार दूंगा। मैं पूछता रहा कौन हो, क्या चाहिए। उन लुटेरों और मेरे बीच ऊंची आवाज सुन भीतर कमरे में आराम कर रही पत्नी भी ड्रॉइंग रूम की तरफ आई। मुझे इस हालात मंे देख जोर से चिल्लाई कौन हो तुम लोग, पीछे हटो। दूसरे लुटेरे ने पत्नी को पकड़ा और घसीटते हुए डॉइंग रूम में सोफे के पास ले आया। उस लुटेरे ने एक फुट लंबी कीरच निकाली और पत्नी से कहा- चुप कर नहीं तो मार दूंगा।


मैंने जोर से कहा- मैडम को कुछ मत करना, जो चाहिए सब ले जाओ, मैडम को कुछ नहीं होना चाहिए

जमीन पर लेटी पत्नी हाथ-पैर मार रही थी और चिल्लाने की कोशिश कर रही थी। पिस्टल ताने लुटेरे ने अपने साथी से कहा कि पहले मैडम को चुप करवा। उस लुटेरे ने मैडम के मुंह पर हाथ रखा। पिस्टल ताने लुटेरे ने साथी से कहा मैडम शाेर मचा रही है, टेप लगा दे दोनों के मुंह पर।

पत्नी की गर्दन पर एक फुट लंब कीरच देख पता नहीं कहां से अंदर से हिम्मत आ गई। लुटेरे पत्नी को बांधने की बात कर रहे थे लेकिन मैंने पिस्टल लगाए लुटेरे का डांटते हुए उसका हाथ पकड़ लिया। ऊपर से मैडम ने समझदारी दिखाई और लुटेरे ने जब उनका मुंह छोड़ा तो वो चिल्लाई- हैप्पी जल्दी बाहर आ। इससे लुटेरे डर गए। लुटेरे हैप्पी का नाम सुनकर बोले- भाग घर में कोई तीसरा शख्स भी है।
फिर दोनों हमें छोड़ बाहर की ओर भागे। मैं उनके पीछे डकैत--डकैत... कोई पकड़ो चिल्लाते हुए भागा। गली में सैर करने वाले कुछ लोगों ने मुझे उनके पीछे भागते देखा। कुछ लोग भी लुटेरों के पीछे भागे, लेकिन एक ने हवा में पिस्टल लहराई और भाग निकले। आगे से एक कार भी आई और लुटेरों को अपनी तरफ आता देख कार चालक रुक गया। लुटेरे ने उस कार चालक की तरफ भी पिस्टल दिखाई। दोनों लुटेरे चावला लाइट प्वाइंट की तरफ भाग गए।

X
Pistol on husbands head
Click to listen..