--Advertisement--

6 लाख की लक्ष्मी ले गया पुजारी लक्ष्मी नारायण, अरेस्ट

चिनार अपार्टमेंट में रहने वाले तरुण कौशिक की शिकायत पर दर्ज चोरी के केस में पुजारी लक्ष्मी नारायण को गिरफ्तार किया है।

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 08:37 AM IST
जीरकपुर। जीरकपुरपुलिस ने पीरमुच्छला के चिनार अपार्टमेंट में रहने वाले तरुण कौशिक की शिकायत पर दर्ज चोरी के केस में पुजारी लक्ष्मी नारायण को गिरफ्तार किया है। पुजारी पर आरोप है कि उसने तरुण के घर से करीब 6 लाख रुपए के सोने-चांदी के गहने चुराए हैं। केस नवंबर में ही दर्ज हो चुका था, पुजारी को गिरफ्तार सोमवार को किया गया। लक्ष्मी नारायण राजस्थान में मेंहदीपुर बालाजी मंदिर में रहता है। वह नवंबर में यहां पीरमुच्छला आया था। यहां तरुण से जान-पहचान हुई और फिर उसी के घर में चोरी को अंजाम दिया। पुलिस को पता चला कि पुजारी सोमवार को जीरकपुर रहा है। पुलिस ने शिकायतकर्ता तरुण को साथ लेकर जीरकपुर के बस स्टैंड पर पुजारी को पकड़ा।
}एक दिन के रिमांड पर
तरुण की शिकायत पर पुलिस ने लक्ष्मी नारायण के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था। पुजारी को अदालत में पेश कर एक दिन का रिमांड हासिल किया गया है।
मामले की जांच कर रहे एएसआई रमेश लाल ने बताया कि तरुण चिनार अपार्टमेंट पीरमुच्छला में रहते हैं। नवंबर में तरुण ने चोरी की शिकायत दी थी। तरुण की शिकायत के मुताबिक दिल्ली में उसकी जान-पहचान पंडित लक्ष्मी नारायण से हुई थी। इसके बाद वह पूजा पाठ के बहाने तरुण के घर आने-जाने लगा। 12 नवंबर को पुजारी उसके घर आया। दो दिन यहां रुका और फिर वापस चला गया। जिस कमरे में पुजारी रुका था उसी कमरे में रखी अलमारी में तरुण के घरवालों ने सोने-चांदी के गहने रखे थे। पुजारी के जाने के एक हफ्ते बाद जब अलमारी खोलने की जरूरत पड़ी तो चाबी नहीं मिली। डुप्लीकेट चाबी बनवाकर अलमारी खोली तो अंदर रखे करीब 18 तोले सोने के गहने एक किलो चांदी के गहने गायब थे।