--Advertisement--

बायोमीट्रिक एंट्री से मिलेगा राशन, अप्रैल से नई आटा-दाल स्कीम में दाल, चीनी भी

हर लाभपात्री को हर महीने आधा किलो दाल 20 रुपए किलो के हिसाब से देगी।

Dainik Bhaskar

Jan 31, 2018, 04:53 AM IST
डेमोफोटो डेमोफोटो

चंडीगढ़. नई आटा-दाल स्कीम में पंजाब के 1.41 करोड़ लाभपात्रियों को अप्रैल से दाल, चीनी व चाय पत्ती भी देने की तैयारी है। सूबे में अभी नेशनल फूड सिक्योरिटी मिशन (एनएफएसएम) के तहत छह महीने में दो रुपए किलो के हिसाब से 30 किलो गेहूं ही दिया जा रहा है। करीब दो साल से राज्य की आटा-दाल स्कीम ठप है। नई स्कीम में राज्य सरकार अपनी ओर से हर लाभपात्री को हर महीने आधा किलो दाल 20 रुपए किलो के हिसाब से देगी। एक किलो चीनी व 100 ग्राम पत्ती भी सब्सिडाइज्ड रेट पर दी जाएगी।

इसके लिए फूड एंड सिविल सप्लाई विभाग ने फाइनांस डिपार्टमेंट से वित्त वर्ष 2018-19 के बजट में 500 करोड़ रुपए के प्रावधान की मांग की है। सरकार ने राशन वितरण में किसी भी तरह की गड़बड़ी रोकने के लिए बायोमीट्रिक सिस्टम शुरू करने की तैयारी की है। अप्रैल से सूबे में राशनकार्ड काम नहीं करेंगे। ईपीओएस (इलेक्ट्रॉनिक्स पाॅइंट ऑफ सेल) में परिवार के किसी एक सदस्य की बॉयोमीट्रिक एंट्री से राशन मिल सकेगा।

एसएमएस से मिलेगी राशन आने की जानकारी

उपभोक्ता को एसएमएस के जरिए डिपाे में राशन पहुंचने की जानकारी दी जाएगी। यह भी बताया जाएगा कि कितने दिन तक राशन वितरण होगा। साथ ही राशन तोल कर देने का झंझट खत्म किया जा रहा है। तोलने में किसी भी तरह की धांधली न हो इसके लिए गेहूं की तर्ज पर दाल, चीनी व चाय पत्ती भी पैक्ड होगी। एनएफएसएम के तहत गेहूं भी पैक्ड दी जा रही है।

X
डेमोफोटोडेमोफोटो
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..