Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» Teaching Children On The Ground

स्कूल में न बेंच हैं, न सिर पर है छत, गीली जमीन पर बिठाकर पढ़ाया जा रहा है बच्चों को

कमरे होने के कारण उन्हें बाहर जमीन पर ही बिठाया जा रहा है। यहां तक कि स्कूल में बेंच तक नहीं हैं।

bhaskar news | Last Modified - Dec 16, 2017, 05:55 AM IST

  • स्कूल में न बेंच हैं, न सिर पर है छत, गीली जमीन पर बिठाकर पढ़ाया जा रहा है बच्चों को

    मोहाली. गांव झुंगियां के सरकारी प्राइमरी स्कूल में इस कड़कती सर्दी में बच्चे खुले आसमान के नीचे गीली जमीन पर बैठकर पढ़ने को मजबूर हैं। स्कूल के कमरे इस्तेमाल लायक होने के कारण गिरा दिए गए थे। इसके बाद अभी तक कमरे नहीं बने। पहली और दूसरी क्लास के बच्चों के लिए तो टीचर्स ने अपने खर्च पर दो कमरे किराये पर ले लिए, लेकिन तीसरी, चौथी और पांचवीं क्लास के बच्चों के लिए कमरे होने के कारण उन्हें बाहर जमीन पर ही बिठाया जा रहा है। यहां तक कि स्कूल में बेंच तक नहीं हैं।

    इस बारे में एजुकेशन डिपार्टमेंट के अफसरों को स्टाफ की ओर से कई बार लिखा गया, लेकिन अभी तक कोई इंतजाम नहीं किया गया। शुक्रवार को दोपहर 1 बजे तीसरी, चौथी और पांचवीं के बच्चों को बाहर गीली जमीन पर बिठाकर पढ़ाया जा रहा था। डीईओ प्राइमरी गरमेज कैंथ का कहना है कि इस बारे में डीजीएसई को लिखा गया है। केंद्र से ग्रांट आने के कारण काम नहीं हुआ है। बच्चों को सर्दी से बचाने के प्रबंध किए जाएंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Chandigarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Teaching Children On The Ground
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×