Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» To Start Surveys For Regular Lorries

अवैध काॅलोनियों को रेगुलर करने के लिए सर्वे शुरू, सिद्धू बोले- हर पहलू पर विचार

डायरेक्टर जनरल फायर, सिविल डिफेंस को 500 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट का मसौदा सौंपा।

bhaskar news | Last Modified - Jan 01, 2018, 04:30 AM IST

  • अवैध काॅलोनियों को रेगुलर करने के लिए सर्वे शुरू, सिद्धू बोले- हर पहलू पर विचार

    चंडीगढ़.पंजाब में उच्च दर्जे का फायर सेफ्टी ट्रेनिंग सेंटर बनाया जाएगा। यह खुलासा लोकल बॉडीज मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पत्रकारों के साथ बातचीत में किया। सिद्धू ने बताया कि उन्होंने फायर सेवाओं के बुनियादी ढांचे में सुधार लाने और अत्याधुनिक सुविधाओं के लिए भारत के डायरेक्टर जनरल फायर, सिविल डिफेंस को 500 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट का मसौदा सौंपा।

    उन्होंने उच्च दर्जे का फायर सेफ्टी ट्रेनिंग सेंटर खोलने की मौके पर ही मंजूरी दे दी। ये सेंटर 15 एकड़ जमीन पर 23 करोड़ रुपए में बनाया जाएगा। डायरेक्टर जनरल को उन्होंने फायर स्टेशनों के लिए 270 करोड़, एरियल लैडर्स के लिए 86 करोड़, एडवांस रेस्क्यू टेंडर के लिए 60 करोड़, फायर सूट्स के लिए 18 करोड़ रुपए, क्विक रिस्पांस व्हीकल के लिए 20 करोड़, ट्रेनिंग सेंटर के लिए 23 करोड़, फायर सेफ्टी संबंधी जागरुकता अभियान के लिए 5 करोड़, फायर आॅडिट के लिए 3 करोड़ और सिविल डिफेंस के लिए 5 करोड़ रुपए का प्रस्ताव दिया है। उन्होंने केंद्रीय शहरी विकास राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी को फायर सेवाओं के लिए 262 करोड़ रुपए का अलग प्रोजेक्ट बनाकर सौंपा। उन्होंने भी सकारात्मक जवाब दिया। सिद्धू ने बताया कि डायरेक्टर जनरल के साथ मीटिंग में फैसला हुआ कि जिन छोटे शहरों और कस्बों में आग बुझाऊ गाड़ियों के लिए फायर स्टेशन नहीं हैं, वहां थानों में गाड़ियां खड़ी की जाएंगी और काम के लिए फायर वाॅलंटियर रखे जाएंगे। फायर प्रीवेंशन एक्ट का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। एक्ट का उल्लंघन करने वाली इमारतों की सूची तैयार करके उनके मालिकों को नोटिस भेजे जाएंगे।

    यह है सर्वे का पैमाना
    सर्वे में देखा जा रहा है कि काॅलोनी कब बनी और किसने बनाई। लोगों को क्या सुविधाएं मिल रही हैं और क्या नहीं मिल रहीं। काॅलोनी में कितने मकान बने हैं और कितने प्लाट खाली पड़े हैं। सीवरेज सिस्टम, सड़कें और अन्य सुविधाओं की हालत क्या है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |
Web Title: To Start Surveys For Regular Lorries
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×