--Advertisement--

वेलेन्टाइन डे पर आउटिंग पर गया था कपल, फिर सामने ऐसे हो गई पत्नी की दर्दनाक मौत

विग की तरह निकल आए सिर के पूरे बाल

Danik Bhaskar | Feb 15, 2018, 03:29 AM IST
पति रोते हुए और मृतका पुनीत कौर पति रोते हुए और मृतका पुनीत कौर

पंचकुला. गो कार्ट की चेन में बाल फंसने से 32 साल की पुनीत कौर की मौत हो गई। बता दें कि वेलेन्टाइन्स डे के दिन पत्नी अपने पति और फैमिली के साथ घूमने गई हुई थी। तभी एक हादसा हुआ और उसकी पति के ही सामने दर्दनाक मौत हो गई।

- पति पुनीत के हेल्मेट का लॉक खुल गया था और हेल्मेट गिर गया।
- पत्नी उसे उठाने के लिए झुकी ही थी कि बाल पीछे चेन में फंस गए और फिर टायर के साथ उलझते गए।
- इससे पुनीत के पूरे बाल खोपड़ी की खाल समेत उखड़ गए। वह सीट पर ही बेहोश होकर गिर गई।
- जब पत्नी को हॉस्पिटल ले गए तो डॉक्टर ने बताया कि उनकी हॉस्पिटल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई थी।

जानलेवा हैं ये रेसिंग कार, सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं

1.कार ऐसी है कि सीट पर बैठने पर खुले बाल पीछे टायर से टच होंगे
2.पीछे टायर के हिस्से को कवर नहीं किया गया है
3.रबर बैंड देकर कहते
हैं बाल बांध लो
4.किसी ने बाल बांधे
या नहीं इसे सुनिश्चित नहीं किया जाता
5.कार पर बैठने वाले को अंदाजा नहीं होता कि ऐसा हादसा हो सकता है
6.इस खतरे को बताने वाला कोई बोर्ड मौके पर नजर नहीं आया
7.ठेकेदार ने बताया कि बोर्ड हैं, ठीक करने को दिए गए थेे
8.खतरों से अागाह करने वाला कोई इंस्ट्रक्टर नहीं

गर्दन की हड्‌डी टूटने या ब्रेन हैमरेज से मौत

- डॉक्टरों के मुताबिक- झटके से गर्दन की हड्‌डी टूटने या एक साथ पूरे बाल चमड़ी सहित निकलने से ब्रेन हैमरेज भी हो सकता है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह पता चलेगी।

कार्ट के पास टायर का हिस्सा कवर नहीं था
- गो कार्ट के पास टायर का हिस्सा पूरी तरह खुला था। लंबे बालों वाला कोई भी सीट पर बैठे तो उसके बालों का टायर से टच होना तय है।

अॉक्शन में कंडम कार्ट खरीदे

बिल तक नहीं दिखा पाए
- पुलिस ने इनसे गाड़ी खरीदने के बिल मांगे, जो ये नहीं दिखा पाए। कहा ऑक्शन में खरीदी हैं। ऑक्शन में कंडम गाड़ियां ही खरीदी जाती हैं।

हेल्मेट में लॉक ही नहीं था।
- गो कार्टिंग करने वाले को हेल्मेट दिया जाता है। पुनीत को जो हेल्मेट दिया गया, उसमें लॉक नहीं था।

पति के बयान पर दर्ज हुआ एक्वा विलेज के मालिक पर लापरवाही से मौत का केस

- देर रात करीब 11 बजे अमनदीप ने पुलिस को दिए बयानों में कहा है- जब मैं गो कार्ट में पत्नी के साथ बैठने लगा तो मैनेजमेंट ने कहा था कि यह पूरी तरह से सेफ है। उनके भराेसे पर ही मैंने टिकट ली थी।

- मैं गो कार्ट को आराम से चला रहा था तो अचनाक ही पत्नी के हेल्मेट का लॉक खुल गया और हेल्मेट नीचे गिर गया। वो हेल्मेट को उठाने के लिए झुकी ही थी कि उसके बाल गो कार्ट की सीट के पीछे इंजन की चेन में फंस गए।

- इसके साथ ही बाल टायर तक पहुंचे और फंसते गए। इस हादसे में मेरी पत्नी की मौत हो गई। यह पूरी तरह मैनेजमेंट की गलती है कि उनके हेल्मेट सही नहीं थे।

पुनीत कौर के फंसे हुए बाल। पुनीत कौर के फंसे हुए बाल।
विग की तरह निकल आए सिर के पूरे बाल विग की तरह निकल आए सिर के पूरे बाल
पति गो कार्ट ड्राइव कर रहा था। पति गो कार्ट ड्राइव कर रहा था।
पति मोर्चुरी के बाहर खड़ा हुआ। पति मोर्चुरी के बाहर खड़ा हुआ।
मां के साथ जाता हुआ पति। मां के साथ जाता हुआ पति।
ऐसे हुआ था हादसा। ऐसे हुआ था हादसा।
मां के साथ बात करता हुआ पति। मां के साथ बात करता हुआ पति।