Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» Womens Depression From 3rd Floor

मां को हुआ भ्रम- कोई मार डालेगा उसके बच्चे को, फिर लगा दी तीसरी मंजिल से छलांग

सिविल हॉस्पिटल में 9 दिन पहले हुई डिलिवरी, वाॅर्ड में भर्ती महिला डिप्रेशन में तीसरी मंजिल से कूदी, नहीं आई कोई चोट।

bhaskar news | Last Modified - Dec 28, 2017, 03:47 AM IST

  • मां को हुआ भ्रम-  कोई मार डालेगा उसके बच्चे को, फिर लगा दी तीसरी मंजिल से छलांग
    +2और स्लाइड देखें
    महिला यहां से कूडी हुई थी।

    मोहाली.प्रेत आत्मा के भ्रम में फेज-6 के सिविल हॉस्पिटल में भर्ती एक महिला ने तीसरी मंजिल से छलांग लगा दी। हालांकि उसे खरोंच तक नहीं आई। उसे ऐसा भ्रम हुआ कि अगर वह छलांग नहीं लगाएगी तो प्रेत आत्मा उसके 9 दिन पहले जन्मे बच्चे को मार डालेगी। बच्चे को कोई आंच न आए, इसलिए उसने हॉस्पिटल की तीसरी मंजिल से छलांग लगा दी। यह ड्रामा बुधवार को सिविल हॉस्पिटल के मदर एंड चाइल्ड केयर सेंटर में हुआ।


    दरअसल 19 दिसंबर को हॉस्पिटल में गांव शामपुर की रहने वाली रिम्पी नाम की डिलिवरी हुई थी और उसने बेटे को जन्म दिया था। उसके बाद उसे मदर एंड चाइल्ड केयर सेंटर की तीसरी मंजिल पर वार्ड में एडमिट किया गया था। बुधवार सुबह जब महिला वॉशरूम जाने लगी तो उसे आभास हुआ कि उसे कोई प्रेत आत्मा बोल रही है कि तुम तीसरी मंजिल से छलांग लगा दो। नहीं तो तुम्हारे बच्चे को मार डालूंगी। इस पर महिला डिप्रेशन में आ गई और उसने अपने बच्चे को बचाने के लिए तीसरी मंजिल की खिड़की से छलांग लगा दी। उसने हॉस्पिटल की बैक साइड से छलांग लगाई, जहां मैक्स हॉस्पिटल स्थित है। ऐसा करते उसे मैक्स के सिक्योरिटी गार्ड्स ने देख लिया। इस पर हॉस्पिटल के स्टाफ ने उसे तुरंत स्ट्रैचर पर डालकर सिविल हॉस्पिटल पहुंचा दिया।

    तीसरी मंजील से गिरने पर भी नहीं आई खरोंच, न कोई फ्रेक्चर

    बुधवार को रिम्पी जब सिविल हॉस्पिटल के तीसरे फ्लोर पर अपने वार्ड में थी तो उसका नवजात बच्चा उसके हाथ में ही था। उसने अपने साथ मौजूद अपने रिश्तेदारों से कहा कि उसे वॉशरूम जाना है, जिसके बाद वो बच्चे को अपने रिश्तेदारों को पकड़ाकर खुद वॉशरूम चली गई। रिम्पी ने बताया कि जब वो वॉशरूम गई तो वहां उसे एक प्रेत आत्मा दिखी, जो दो-तीन दिनों से उसे नजर आ रही थी। उसने उससे कहा कि अगर उसने नीचे छलांग नहीं लगाई तो वो उसके बच्चे को मार देगी, इसलिए उसने अपने बच्चे को बचाने के लिए खुद नीचे छलांग लगा दी। हालांकि तीसरी मंजील से छलांग लगाने के बाद भी उसे छरोंच तक नहीं आई। उसके शरीर के सभी एक्स-रे किए, लेकिन कहीं कोई फैक्चर तक नहीं आया।

    दो-तीन दिनों से कर रही थी बहकी-बहकी बातें

    रिम्पी के पति अवतार ने बताया कि रिम्पी पिछले दो-तीन दिनों से बहकी-बहकी बातें कर रही थी। वह कहती थी कि उसके पास एक प्रेत आत्मा आ रही है और उसे तंग कर रही है। वह कहती थी कि आत्मा उसे और उसके बच्चे को मारना चाहती है। अवतार ने बताया कि हालांकि उन्होंने उसे समझाने का प्रयास किया कि आत्मा व भूत, प्रेत जैसी कोई चीज नहीं होती। लेेेकिन रिम्पी के मन में यह बात घर कर चुकी थी कि आत्मा उसे नुकसान पहुंचाएगी और इसी के चलते उसने तीसरी मंजिल से छलांग लगा दी।

    डॉक्टर बोले-कोई इंजरी नहीं आई, डिस्चार्ज कर दिया है

    चौकी इंचार्ज बलजिंदर सिंह मंड ने कहा जिस तरह महिला आत्मा होने की बात बोल रही है, ऐसी कोई बात नहीं है, क्योंकि भूत-प्रेत और आत्मा सब भ्रम होता है। महिला ने खुद ही बिना किसी कारण हॉस्पिटल की तीसरी मंजिल से छलांग लगाई थी, लेकिन महिला को कोई चोट नहीं आई है। महिला के गिरने के बाद उसका इलाज किया गया और सारे मेडिकल टेस्ट करवाए गए हैं। हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने कहा कि महिला को काेई इंजरी नहीं आई है। उसे जांच के बाद डिस्चार्ज कर घर भेज दिया गया है।

  • मां को हुआ भ्रम-  कोई मार डालेगा उसके बच्चे को, फिर लगा दी तीसरी मंजिल से छलांग
    +2और स्लाइड देखें
  • मां को हुआ भ्रम-  कोई मार डालेगा उसके बच्चे को, फिर लगा दी तीसरी मंजिल से छलांग
    +2और स्लाइड देखें
    इस खिंड़की से कूदी महिला।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Chandigarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Womens Depression From 3rd Floor
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×