Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» दो फैसले आज से लागू: ई-वे बिल अब जरूरी, संपर्क सेंटरों में कैश सिर्फ 500 रुपए

दो फैसले आज से लागू: ई-वे बिल अब जरूरी, संपर्क सेंटरों में कैश सिर्फ 500 रुपए

देश में टैक्स चोरी को रोकने के लिए आज से ई-वे बिल का सिस्टम लागू हो जाएगा। इसमें 50 हजार रुपए से ज्यादा का सामान लाने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:00 AM IST

देश में टैक्स चोरी को रोकने के लिए आज से ई-वे बिल का सिस्टम लागू हो जाएगा। इसमें 50 हजार रुपए से ज्यादा का सामान लाने या ले जाने के लिए डीलर्स को और ट्रांसपोर्टर्स को ई-वे बिल जेनरेट करना जरूरी होगा। इसके लिए यूटी चंडीगढ़ से बुधवार शाम तक करीब 1200 ईवे बिल जेनरेट किए जा चुके हैं। एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट यूटी चंडीगढ़ के मुताबिक करीब 3600 डीलर्स चंडीगढ़ में ई-वे बिल पोर्टल में रजिस्टर्ड हो चुके हैं, जबकि 74 ट्रांसपोर्टर्स ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। चंडीगढ़ ट्रांसपोर्टर्स एसोसिएशन के मुताबिक रजिस्ट्रेशन तो करवा लिया गया है लेकिन इस सिस्टम में कुछ खामियां हैं, जिसको लेकर जीएसटी काउंसिल को प्रेजेंटेशन दी गई है। चंडीगढ़ ट्रांसपोर्टर्स एसोसिएशन के प्रेस सेक्रेटरी संजीव दीवान ने कहा कि सबसे ज्यादा समस्या ये होगी कि अगर एक गाड़ी में पूरा सामान लोड नहीं हुआ तो उसको सामान के लिए इंतजार करना पड़ता है। लेकिन इस सिस्टम के हिसाब से जब सामान लोड हो जाएगा तो तय समय पर दूसरी जगह पर सामान पहुंचाना जरूरी है, जिससे परेशानी होगी। इसमें 100 किलोमीटर के रास्ते के लिए एक दिन का टाइम जबकि 200 किलोमीटर के रास्ते के लिए 2 दिन का टाइम दिया गया है लेकिन अगर सामान ही एक गाड़ी में कम हुआ तो दूसरे डीलर्स का सामान इकट्‌ठा करने में टाइम लगता है और इस बिल के हिसाब से तय टाइम पर ही सामान पहुंचाना है तो ऐसे में क्या किया जाए?

ई-संपर्क सेंटरों में आज से कैश से पेमेंट सिर्फ 500 रुपए तक ली जाएगी। 500 रुपए से ज्यादा की पेमेंट है तो आपको डेबिट, क्रेडिट कार्ड स्वाइप करवा कर या फिर चेक या डिमांड ड्राफ्ट से पेमेंट करनी होगी। चंडीगढ़ में 43 ई संपर्क सेंटर हैं जहां पर करीब 100 से ज्यादा पब्लिक विंडो हैं। यहां पर 80 अलग-अलग सर्विसेज को लेकर पेमेंट की जा सकती है। अभी तक 2000 रुपए तक कैश से पेमेंट का सिस्टम संपर्क सेंटरों में था। चंडीगढ़ में ज्यादातर ई-संपर्क सेंटरों में बिजली-पानी के बिलों और प्रॉपर्टी टैक्स को लेकर ही ट्रांजेक्शन होती है और ये ज्यादातर 500 रुपए से ज्यादा की ही होती है यानि मैक्सिमम ट्रांजेक्शन अब संपर्क सेंटरों में इलेक्ट्रॉनिक मोड में ही हो पाएगी।

संपर्क सेंटर: 500 से ज्यादा रुपए तो ई पेमेंट करिए

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×