चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

प्रोजेक्ट अच्छा है तो फिल्म को ऑन स्पॉट फाइनेंस देंगे

कितनी फिल्में ऐसी हैं जो बेहतरीन कहानी, अच्छी कास्ट और कलाकारों के शानदार अभिनय के बावजूद पर्दे तक नहीं पहुंच...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:05 AM IST
कितनी फिल्में ऐसी हैं जो बेहतरीन कहानी, अच्छी कास्ट और कलाकारों के शानदार अभिनय के बावजूद पर्दे तक नहीं पहुंच पातीं। फाइनेंस की कमी से जूझती इन फिल्मों को सहारा देने के लिए आया है एक स्टार्टअप अड्‌डा फाइनेंस। यूके बेस्ड ग्रुप द्वारा शुरू किए जा रहे इस स्टार्टअप के सीईओ प्रवीन कुमार नैन और को-फाउंडर आशिका नाथ ने इस बारे में जानकारी दी।

प्रवीन ने बताया कि जो लोग भी अपने प्रोजेक्ट को लेकर श्योर हैं और सिर्फ पैसे की कमी के कारण काम आगे नहीं बढ़ा पा रहे हैं, उनके लिए हम ऑन स्पॉट फाइनेंस देंगे। कंपनी ने कुल 968 करोड़ रुपए का एक फंड इसके लिए रखा है जिसका 50 फीसदी हिस्सा बॉलीवुड प्रोजेक्ट्स और बाकी हॉलीवुड प्रोजेक्ट्स पर खर्च किया जा सकता है। चंडीगढ़ में अपना दफ्तर खोलने के साथ ही उनकी यह भारत में भी पहली एंट्री है। फिल्मों के लिए वे बॉलीवुड के पैटर्न पर फाइनेंसिंग करेंगे या फिर ये मॉड्यूल अलग है? प्रवीन ने बताया-हमारा कॉन्सेप्ट एकदम अलग है। हम प्रॉफिट शेयरिंग पर जाएंगे। प्रॉमिसिंग प्रोजेक्ट्स को प्रमोट करेंगे। अपनी तरह के इस अनोखे स्टार्ट अप के साथ आने वाले प्रवीन दरअसल साइंस बैकग्राउंड से हैं और विदेश में अपनी पढ़ाई करने के बाद वहीं सैटल हो गए। फिलहाल उनके पास फाइनेंस अड्‌डा के अलावा कई ऐसे प्रोजेक्ट्स हैं जिनमें वे इन्वेस्ट करने वाले हैं। उनका मानना है कि इस तरह न केवल वे जरूरतमंद प्रोजेक्ट्स तक पहुंचेंगे बल्कि लोगों के लिए रोजगार के नए अवसर भी पैदा कर पाएंगे।

एक अनोखे स्टार्टअप को लेकर चंडीगढ़ पहुंचे हैं प्रवीन कुमार नैन। हमने उनसे बात की इस बारे में ...

अगला प्रोजेक्ट फिल्म ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट

चंडीगढ में उनका यह एकमात्र प्रोजेक्ट नहीं है। वे मल्टीपल स्टार्टअप्स प्लान लेकर चल रहे हैं। जिससे एक नहीं अनेक फील्ड्स में काम कर सकें। प्रवीन कहते हैं-हम अगले साल तक शहर के पास बद्दी रोड पर एक ऐसा प्रोजेक्ट लाने जा रहे हैं जो 80 लाख वर्ग फीट में फैला होगा। जहां फिल्मों से जुड़ी ट्रेनिंग के अलावा उससे जुड़े विषय पढ़ाने की भी व्यवस्था होगी। इस फिल्म ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट को पूरी तरह से परफेक्ट बनाया जाएगा। साथ ही एक एविएशन एकेडमी की भी प्लानिंग है। जहां एअरोनॉटिक्स की ट्रेनिंग दी जाएगी । इससे जुड़ी टैक्नीकल चीजों को एकसाथ लाया जाएगा। उनका फोकस्ड सॉल्यूशन सामने लाया जाएगा। तीसरी महत्वूपर्ण योजना है एक हॉस्पिटेलिटी इंस्टीट्यूट शुरू करने की। इतना सबकुछ होने से इस इलाके के युवाओं को न केवल बढ़िया ट्रेनिंग के मौके मिलेंगे बल्कि बड़ी संख्या में रोजगार भी मिलेगा।

चंडीगढ़ बेहतर जगह है

इतने सारे प्रोजेक्ट्स लेकर चंडीगढ़ आना, इसकी वजह क्या रही होंगी? प्रवीन ने बताया-बेहतर माहौल, शिक्षा का अच्छा स्तर, सुनियोजित शहर की व्यवस्था, उत्तर भारतीय लोगों की उद्यमशीलता आदि ने मिलकर इमें चंडीगढ़ की ओर आकर्षित किया। इसके अलावा हम मुंबई और भारत के अन्य शहरों पर भी फोकस कर रहे हैं, जहां भी हमें अच्छे अवसर नजर आएंगे हम वहां जरूर जाएंगे।

X
Click to listen..