• Home
  • Union Territory News
  • Chandigarh News
  • News
  • नीड बेस्ड चेंज रेगुलराइज करने काे लेकर हंगर स्ट्राइक पर बैठे सीएचबी अलॉटीज
--Advertisement--

नीड बेस्ड चेंज रेगुलराइज करने काे लेकर हंगर स्ट्राइक पर बैठे सीएचबी अलॉटीज

हाउसिंग बोर्ड ने अलॉटियों को पेनल्टी जमा करवाने के लिए कहा है जिसके लिए 15 अप्रैल तक 50 परसेंट के डिस्काउंट पर...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:05 AM IST
हाउसिंग बोर्ड ने अलॉटियों को पेनल्टी जमा करवाने के लिए कहा है जिसके लिए 15 अप्रैल तक 50 परसेंट के डिस्काउंट पर पेनल्टी जमा करवानी है। लेकिन अलॉटी इसलिए इसका विरोध कर रहे हैं क्योंकि ये पेनल्टी जमा करवाने के बाद भी उनकी वायलेशन को रेगुलराइज नहीं किया जाएगा बल्कि अगले साल फिर उनको पेनल्टी जमा करवानी पड़ेगी। इसके चलते शनिवार सेक्टर-41 में सीएचबी के कुछ अलॉटी हंगर स्ट्राइक पर बैठ गए हैं। सेक्टर-41 मार्केट की बैकसाइड में इन अलॉटियों ने शनिवार सुबह 10.30 बजे हंगर स्ट्राइक शुरु की है। अलॉटियों के मुताबिक फिलहाल एक ही दिन की स्ट्राइक रखी गई है लेकिन अगर उनकी मांगे पूरी नहीं होती है तो ये हंगर स्ट्राइक सभी सेक्टरों में प्रत्येक अलॉटी करेगा। स्ट्राइक पर बैठे अलॉटी रविवार सुबह 10.30 बजे तक अपनी मांगों को लेकर हंगर स्ट्राइक पर रहेंगे। यहां इक्ट्ठा हुए अलॉटियों ने कहा कि जिन मकानों की पूरी कीमत चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड को जमा करवा चुके हैं उनमें वे अपने जरूरत के हिसाब से अगर बदलाव कर देते हैं तो ये उनका हक है लेकिन इसके लिए भी उनको परेशान किया जा रहा है और अलॉटमेंट कैंसिल करने या फिर हर साल पेनल्टी भरने के लिए बोर्ड बोल रहा है।

हाउसिंग बोर्ड की सिर्फ नीड बेस्ड चेंज पर होगी मीटिंग कुछ चेंजेस पर मिल सकती है अलॉटीज को राहत... वाॅयलेशन को लेकर अलॉटी कर रहे हैं मांग जायज खर्चे के साथ मिले छूट b[सिटी रिपोर्टर चंडीगढ़ चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड के अलॉटी पिछले काफी टाइम से लगातार जरूरत मुताबिक किए बदलावों को रेगुलराइज करने की मांग प्रशासन से कर रहे हैं। हालांकि चंडीगढ़ प्रशासन इसको वायलेशन मानता है जिसके चलते अलॉटियों को पेनल्टी जमा करवाने के लिए कहा जा रहा है। हालांकि करीब 800 से ज्यादा अलॉटियों ने पेनल्टी जमा करवा भी दी है लेकिन ज्यादातर अलॉटियों ने ये पेनल्टी जमा नहीं करवाई है। अलॉटियों की तरफ से मांग की जा रही है कि पेनल्टी वन टाइम होनी चाहिए और नीड बेस्ड चेंजिस को रेगुलराइज किया जाना चाहिए। इसको लेकर अप्रैल महीने में ही अब चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड सिर्फ एक ही एजेंडा को लेकर डायरेक्टर्स की मीटिंग करेगा जिसमें लोगों से पेनल्टी लिए जाने और जरूरत मुताबिक किए बदलावों को लेकर क्या किया जाना है इसको लेकर एजेंडा रखा जाएगा। दरअसल पिछली मीटिंग में एक कमेटी का गठन भी बोर्ड ने पेनल्टी लगाए जाने के फैसले को लेकर किया था जिसको लेकर भी इस मीटिंग में अब रिव्यू किया जाएगा। वहीं दूसरी तरफ अलॉटी पेनल्टी के विरोध में लगातार धरना प्रदर्शन और भूख हड़ताल कर रहे हैं।