चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

होटल के डायरेक्टर्स ने रिवीजन पिटीशन की दायर, कहा- मरने वाले की लापरवाही थी

आईटी पार्क स्थित होटल ललित में करीब चार साल पहले एक गेस्ट मनी सिंगला की एग्जॉस्ट शाफ्ट से गिरकर मौत हो गई थी। इस...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:10 AM IST
आईटी पार्क स्थित होटल ललित में करीब चार साल पहले एक गेस्ट मनी सिंगला की एग्जॉस्ट शाफ्ट से गिरकर मौत हो गई थी। इस मामले में जिला अदालत ने होटल के तीन डायरेक्टर्स को बतौर आरोपी पेश होने के लिए समन किए थे। जेएमआईसी हरलीन पाल सिंह के इस फैसले के खिलाफ होटल के तीनों डायरेक्टर्स माधव सिक्का, अरविंद सचदेव और रॉकी कालरा ने रिवीजन पिटीशन फाइल की है। उन्होंने कहा है कि इस मामले का उनसे कोई संबंध नहीं है और उन्हें आरोपी बनाना गलत होगा। डायरेक्टर्स ने कहा कि इस हादसे में मरने वाले की खुद की लापरवाही थी। तीनों डायरेक्टर्स ने एडिशनल डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज डॉ. अजीत अत्री की कोर्ट में रिवीजन पिटीशन दायर की है जिसमें उन्होंने जेएमआईसी के फैसले को खारिज करने की मांग की है।

इस आधार पर दायर की रिवीजन पिटीशन






सिटी रिपोर्टर | चंडीगढ़

आईटी पार्क स्थित होटल ललित में करीब चार साल पहले एक गेस्ट मनी सिंगला की एग्जॉस्ट शाफ्ट से गिरकर मौत हो गई थी। इस मामले में जिला अदालत ने होटल के तीन डायरेक्टर्स को बतौर आरोपी पेश होने के लिए समन किए थे। जेएमआईसी हरलीन पाल सिंह के इस फैसले के खिलाफ होटल के तीनों डायरेक्टर्स माधव सिक्का, अरविंद सचदेव और रॉकी कालरा ने रिवीजन पिटीशन फाइल की है। उन्होंने कहा है कि इस मामले का उनसे कोई संबंध नहीं है और उन्हें आरोपी बनाना गलत होगा। डायरेक्टर्स ने कहा कि इस हादसे में मरने वाले की खुद की लापरवाही थी। तीनों डायरेक्टर्स ने एडिशनल डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज डॉ. अजीत अत्री की कोर्ट में रिवीजन पिटीशन दायर की है जिसमें उन्होंने जेएमआईसी के फैसले को खारिज करने की मांग की है।


X
Click to listen..