--Advertisement--

नगर निगम में इकट्ठा हुआ 42.75 करोड़ प्रॉपर्टी टैक्स

नगर निगम की टैक्स ब्रांच ने तीन दिन ( 29 से 31 मार्च ) की छुट्टियों के दिन भी वर्किंग रखी। इस दौरान एमसी के पास 1 करोड़ 8...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:05 AM IST
नगर निगम की टैक्स ब्रांच ने तीन दिन ( 29 से 31 मार्च ) की छुट्टियों के दिन भी वर्किंग रखी। इस दौरान एमसी के पास 1 करोड़ 8 लाख रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी टैक्स जमा हुआ। वहीं 31 मार्च तक एमसी की टैक्स ब्रांच ने प्रॉपर्टी टैक्स का 42 करोड़ 75 लाख इकट्ठा किया।

इसमें कमर्शियल प्रॉपर्टी वालों से 30 करोड़ 75 लाख और रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी के 12 करोड़ 75 लाख रुपए जमा हुए हैं। इस साल एमसी की टैक्स ब्रांच ने रिकार्ड तोड़ रिकवरी की है। अब टैक्स ब्रांच की ओर से दो माह चलने वाली सेल्फ असेसमेंट स्कीम के नोटिस जारी किए जाएंगे। अब पहली अप्रैल से 31 मई तक दो महीने सेल्फ असेसमेंट स्कीम के तहत रेजिडेंशियल और कमर्शियल प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाने वालों को 10 फीसदी रिबेट मिलेगा।

एमसी की टैक्स ब्रांच की ओर से रेजिडेंशियल और कमर्शियल प्रॉपर्टी धारकों को नोटिस जारी किए जाएंगे। नोटिस एमसी की वेब साइट और ई संपर्क सेंटर पर अवेलेबल होगा। इन साइट को खोलने पर असेसी को अपने हाउस का नोटिस मिलेगा। उसमें टैक्स की राशि लिखी होगी।

उसे देखकर ऑन लाइन जमा करवाया जा सकेगा। सेल्फ असेसमेंट स्कीम के तहत टैक्स नहीं जमा करवाने वालाें को 12 फीसदी ब्याज और 25 फीसदी अतिरिक्त जुर्माना जमा करवाना होगा। नगर निगम प्रॉपर्टी टैक्स को लेकर गंभीरता से काम कर रहा है।