Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» फुटबॉल: अब मिनर्वा पंजाब की नजरें एक और खिताब पर

फुटबॉल: अब मिनर्वा पंजाब की नजरें एक और खिताब पर

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:05 AM IST

फुटबॉल: अब मिनर्वा पंजाब की नजरें एक और खिताब पर
चंडीगढ़. दो दशक बाद पंजाब को इंडियन फुटबॉल मैप पर वापस लाने वाली मिनर्वा पंजाब की नजरें अब एक और खिताब पर हैं। आई लीग फुटबॉल टूर्नामेंट में चैंपियन बनी मिनर्वा पंजाब की टीम सोमवार से हीरो सुपर कप में अपना सफर शुरू करने जा रही है। भुवनेश्वर में खेले जा रहे इस फुटबॉल टूर्नामेंट में पंजाब का मुकाबला सोमवार को जमशेदपुर फुटबॉल क्लब से होगा। खास बात है कि ये टूर्नामेंट नॉक-आउट है और पंजाब को टूर्नामेंट में बने रहने के लिए सोमवार का मुकाबला जीतना ही होगा। इस मैच में जीतने वाली टीम क्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर जाएगी। इस टूर्नामेंट में कुल 20 टीमें हिस्सा ले रही हैं। पहली 8 टीमों को क्वालिफाइंग मुकाबले खेलने पड़े जिसमें से 4 टीमों को अब राउंड ऑफ 16 में एंट्री मिली है जिसमें 12 टीमें पहले से ही थीं। मिनर्वा पंजाब भी इन 12 टीमों में शामिल थीं। मिनर्वा पंजाब के कोच खोगन सिंह ने कहा कि हर टूर्नामेंट में टीम के लिए पहला मैच काफी महत्वपूर्ण होता है। आई लीग जीतने के बाद ये हमारा मुकाबला होगा। हमारी टीम ने कड़ी मेहनत की है और हमें उम्मीद है कि आगे भी टीम का प्रदर्शन इसी तरह जारी रहेगा। वहीं जमशेदपुर क्लब के कोच जैफर स्टीव कोपल का कहना है कि मिनर्वा पंजाब एक अच्छी टीम है। हमने आई लीग के मुकाबले टीवी पर देखे थे और हमें पता है कि वे मुकाबले काफी मुश्किल थे।

चंडीगढ़. दो दशक बाद पंजाब को इंडियन फुटबॉल मैप पर वापस लाने वाली मिनर्वा पंजाब की नजरें अब एक और खिताब पर हैं। आई लीग फुटबॉल टूर्नामेंट में चैंपियन बनी मिनर्वा पंजाब की टीम सोमवार से हीरो सुपर कप में अपना सफर शुरू करने जा रही है। भुवनेश्वर में खेले जा रहे इस फुटबॉल टूर्नामेंट में पंजाब का मुकाबला सोमवार को जमशेदपुर फुटबॉल क्लब से होगा। खास बात है कि ये टूर्नामेंट नॉक-आउट है और पंजाब को टूर्नामेंट में बने रहने के लिए सोमवार का मुकाबला जीतना ही होगा। इस मैच में जीतने वाली टीम क्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर जाएगी। इस टूर्नामेंट में कुल 20 टीमें हिस्सा ले रही हैं। पहली 8 टीमों को क्वालिफाइंग मुकाबले खेलने पड़े जिसमें से 4 टीमों को अब राउंड ऑफ 16 में एंट्री मिली है जिसमें 12 टीमें पहले से ही थीं। मिनर्वा पंजाब भी इन 12 टीमों में शामिल थीं। मिनर्वा पंजाब के कोच खोगन सिंह ने कहा कि हर टूर्नामेंट में टीम के लिए पहला मैच काफी महत्वपूर्ण होता है। आई लीग जीतने के बाद ये हमारा मुकाबला होगा। हमारी टीम ने कड़ी मेहनत की है और हमें उम्मीद है कि आगे भी टीम का प्रदर्शन इसी तरह जारी रहेगा। वहीं जमशेदपुर क्लब के कोच जैफर स्टीव कोपल का कहना है कि मिनर्वा पंजाब एक अच्छी टीम है। हमने आई लीग के मुकाबले टीवी पर देखे थे और हमें पता है कि वे मुकाबले काफी मुश्किल थे।

21 साल बाद पंजाब बना था चैंपियन

मिनर्वा पंजाब एफसी ने पिछले महीने आई लीग फुटबॉल टूर्नामेंट की ट्रॉफी जीती थी। मिनर्वा पंजाब की टीम 35 पॉइंट्स के साथ इस टूर्नामेंट में टॉप पर रही थी। पंजाब को 21 साल बाद नेशनल लीग का खिताब हासिल हुआ था। इससे पहले जेसीटी ने 1996-97 में नेशनल लीग का खिताब जीता था। तब आई-लीग को नेशनल फुटबॉल लीग के नाम से जाना जाता था। मिनर्वा ने 2016-17 में पहली बार आईलीग में हिस्सा लिया था। तब टीम अंतिम स्थान पर रही थी। लेकिन उसके बाद टीम ने जबरदस्त तरीके से वापसी की और चैंपियन का खिताब अपने नाम किया। आई लीग में मिनर्वा ने ईस्ट बंगाल, मोहन बगान जैसे क्लब को पछाड़ा था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×