• Home
  • Union Territory News
  • Chandigarh News
  • News
  • अंग्रेजी शराब 50 रु., देसी की बोतल Rs.30 तक सस्ती, ठेके लेने वाले ग्रुप्स 84 से 800 किए
--Advertisement--

अंग्रेजी शराब 50 रु., देसी की बोतल Rs.30 तक सस्ती, ठेके लेने वाले ग्रुप्स 84 से 800 किए

चंडीगढ़ | पड़ोसी राज्यों से तस्करी रोकने के लिए पंजाब सरकार ने शराब सस्ती कर दी है। मंगलवार को कैबिनेट मीटिंग में 2018-19...

Danik Bhaskar | Mar 14, 2018, 03:10 AM IST
चंडीगढ़ | पड़ोसी राज्यों से तस्करी रोकने के लिए पंजाब सरकार ने शराब सस्ती कर दी है। मंगलवार को कैबिनेट मीटिंग में 2018-19 की एक्साइज पॉलिसी को मंजूरी दी गई। नई पॉलिसी में शराब के कारोबार में मोनोपली तोड़ने के लिए ठेके लेने वाले ग्रुप्स की संख्या 84 से बढ़ाकर 800 कर दी है। वहीं एक ग्रुप का आकार 40 करोड़ रुपए से घटाकर 5 करोड़ कर दिया है। ठेकों की संख्या भी 5850 से घटाकर 5700 करने का फैसला लिया है। एक अप्रैल से नई पाॅलिसी लागू होगी। देसी शराब की बोतल 30 रुपए, अंग्रेजी 50 रुपए और बियर की बोतल 40 रुपए तक सस्ती होगी। नई पॉलिसी में दो रुपए प्रति बोतल काऊ सैस भी खत्म करके स्पेशल लाइसेंस फीस लगा दी गई है। ठेकाें की अलाटमेंट ड्रा द्वारा की जाएगी। एप्लीकेशन फीस 18,000 रुपए होगी।
एक्साइज से कमाई का टारगेट 6000 करोड़ रु.

नई एक्साइज पॉलिसी में देसी,अंग्रेजी शराब व बियर का कोटा 33% तक घटा दिया है। वहीं 2017-18 की एक्साइज कमाई 5150 करोड़ रुपए से बढ़ाकर 2018-19 में 6000 करोड़ करने का टारगेट है। 2016 -17 में 4400 करोड़ रुपए एक्साइज कलेक्शन हुआ था। प्रत्येक लाइसेंस कम से कम गारंटेड बिक्री के आधार पर मंजूर किया जाएगा।