--Advertisement--

पत्नी फोन करती रही- जब नहीं उठाया तो घर आकर देखा पति फंदे पर लटक रहे थे

संजीव की पत्नी पूजा एमआरएफ कंपनी के प्राइवेट शोरूम में काम करती हैं और मां किरयाने की दुकान चलाती हैं।

Danik Bhaskar | Nov 17, 2017, 06:38 AM IST

पिंजौर (चंडीगढ़). संदिग्ध परिस्थितियों में एक व्यक्ति फंदे से लटका मिला है। प्रगति बिहार अब्दुल्लापुर कॉलोनी के एक मकान में वीरवार सुबह 11 बजे के करीब 33 वर्षीय संजीव ठाकुर अपने ही मकान में स्टाल से बने फंदे पर छत में लगे पंखे से लटका मिला। संजीव की पत्नी पूजा एमआरएफ कंपनी के प्राइवेट शोरूम में काम करती हैं और मां किरयाने की दुकान चलाती हैं। पूजा ने बताया कि संजीव अपने बेटे को स्कूल छोड़ने के लिए घर से गए थे। जैसे ही वह मेरे शोरूम में आए तो मैनें उनको घर से पानी का कैंपर लाने के लिए भेजा था।

पूजा ने बताया कि जब संजीव काफी देर तक पानी का कैंपर लेकर घर से नहीं लौटा तो उनको फोन मिलाया, लेकिन संजीव ने फोन नहीं उठाया। इसके बाद पूजा ने अपनी सास को फोन मिलाया तो सास ने भी जवाब दिया कि संजीव उनके पास नहीं आया है। संजीव फोन नहीं उठा रहे थे तो पूजा ने घर आई। उन्होंने देखा कि घर के दरवाजे अंदर से बंद हैं।

पत्नी ने पानी का कैंपर लेने भेजा था घर
पूजा ने खिड़की खोलकर अंदर से लगी कुंडी को खोला और देखा कि किचन के साथ वाले कमरे में फंदे से लटका हुआ था। पूजा ने शोर मचाया और पड़ोस के काफी लोग इकठ्ठा हो गए। लोगों ने स्टाल को चाकू से काटकर संजीव को नीचे उतारा और उसे प्राथमिक स्वास्थय केंद्र पिंजौर ले गए। डॉक्टरों ने संजीव को मृत घोषित कर दिया। प्राथमिक स्वास्थय केंद्र के डाॅ. धीरज कपूर ने संजीव को मृत घोषित कर दिया और शव को कालका के सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पहुंचे पुलिस के हेड कांस्टेबल गुरुमेज सिंह ने घटनाक्रम की जानकारी लेकर फोरेंसिक टीम को घटनाक्रम पर बुलाया। फोरेंसिक टीम की अधिकारी रितिक सैनी मृतक के घर पर सैंपल लिए। पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है।