--Advertisement--

रुक नहीं रहा हैरिटेज फर्नीचर का बाहर जाना, इस बार १५.१६ लाख में बिकेटेबल और कुर्सियों के सैट

रुक नहीं रहा हैरिटेज फर्नीचर का बाहर जाना, इस बार १५.१६ लाख में बिकेटेबल और कुर्सियों के सैट

Dainik Bhaskar

Jan 21, 2018, 11:25 AM IST
15.16 Lacs Heritage Furniture

चंडीगढ़। यूटी चंडीगढ़ को बनाने वाले ली कार्बुजिए के साथी रहे पीयरे जेनरे ने यहां रहते हुए कई फर्नीचर को डिजाइन किया। लेकिन इनके विदेशों तक पहुंचने को लेकर कोई रोक नहीं लग पा रही है। इसके चलते लगातार मामले विदेशों में यहां चंडीगढ़ का फर्नीचर बताकर लाखों रुपए ऑक्शन हाउस कमाई कर रहे हैं।

कई शिकायतें इसको लेकर लोकल अथॉरिटी से लेकर केंद्र सरकार और सीबीआई तक को की जा चुकी है लेकिन अभी तक कार्रवाई एक पर भी नहीं हुई है।


इस बार यूके में बिके तीन आईट्म्स...

इस हफ्ते यूके में पीयरे जेनरे द्वारा चंडीगढ़ में रहते हुए डिजाइन किए गए तीन आईटम बिके। इसमें पंजाब यूनिवर्सिटी के कैफेटेरिया से डाइनिंग टेबल को 8125 डॉलर में नीलाम किया गया, कुर्सियों के एक सैट की बोली 13750 डॉलर लगी और एक और कुर्सियों के सैट की बोली 10 हजार डॉलर लगी। इस तरह से कुल 15.16 लाख रुपए में ये तीनों फर्नीचर बिका।

सेंट्रल बोर्ड ऑफ एक्साइज एंड कस्टम मिनिस्टरी ऑफ फाइनेंस को कंप्लेंट...

इस बारे में चंडीगढ़ के एडवोकेट जिन्होंने पहले भी कई कंप्लेंट इस तरह की ऑक्शन को लेकर की है उन्होंने सेंट्रल बोर्ड ऑफ एक्साइज एंड कस्टम मिनिस्टरी ऑफ फाइनेंस गवर्नमेंट ऑफ इंडिया देबी प्रसाद को की है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि कई बार शिकायतें की जा चुकी है लेकिन बावजूद इसके आज तक न तो कार्रवाई हुई और न ही इस तरह के मामलों को होने से रोका जा रहा है।

X
15.16 Lacs Heritage Furniture
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..