चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

आइजोल ने खत्म किया मिनर्वा का विजयी सफर

आइजोल ने खत्म किया मिनर्वा का विजयी सफर

Danik Bhaskar

Dec 28, 2017, 05:52 PM IST

चंडीगढ़। गत विजेता आइजोल एफसी ने टेबल पर टॉप कर रहे मिनर्वा पंजाब एफसी के विजयी सफर को खत्म कर दिया। आई लीग में मिनर्वा ने एक भी मैच नहीं हारा था लेकिन गत विजेता टीम के खिलाफ उन्हें 2-1 से हार का सामना करना पड़ा। मिनर्वा की ओर से करीम ओमोलाजा ने एक गोल करके लीड हासिल की थी लेकिन इसके बाद गत विजेता टीम ने दो गोल दागकर जीत पर मोहर लगा दी। आंद्रेइ इओनेस्कू ने एक गोल किया जबकि दूसरा गोल गीरिक खोसला ने इंजरी टाइम में किया। आइजोल के खाते में अब 7 अंक हो गए हैं और वे अभी छठे नंबर पर हैँ। वहीं मिनर्वा की टीम के पास 6 मैचों के पास 13 अंक हैं और वे अब दूसरे स्थान पर आ गए हैं। मैच के शुरुआत में आइजोल की टीम ने चार चेंज किए जबकि मिनर्वा की टीम ने इस मैच में कोई भी बदलाव नहीं किया।


आइजोल की टीम ने मैच के शुरुआत से ही अटैक करना शुरू कर दिया और मिनर्वा ने भी इसका डटकर सामना किया। मिनर्वा के डिफेंडर्स होम टीम के सभी अटैक को रोक रहे थे और कोई भी गोल करने में सफल नहीं हो पा रहा था। मिनर्वा ने भी पहले हाफ में कई मूव बनाया लेकिन किसी को भी सफलता नहीं मिली। लॉरेंस डोडोज को फर्स्ट हाफ में गोल करने का सुनहरा मौका मिला लेकिन वे गोल करने में कामयाब नहीं हो सके। वहीं मिनर्वा की ओर से विलियम ओपोकू के पास गोल करने का मौका था लेकिन वे इसमें कामयाब नहीं हो सके। टीम के स्टार चेंच इस पर गोल करने से चूक गए। आइलोल ने 21वें मिनट में भी एक मौका गंवाया। पहले हाफ में दोनों ही टीमें गोल नहीं कर सकीं और स्कोर 0-0 ही रहा।


इसके बाद दूसरे हाफ में भी अटैक का दौर शुरू हो गया लेकिन इस बार भी डिफेंडर्स का ही बोलबाला रहा। उन्होंने किसी को गोल करने में सफल नहीं होने दिया। 72वें मिनट में मिनर्वा ने अटैक को संभाला और करीम ओमोलाजा बॉल को लेकर गोल पोस्ट की ओर बढ़े। उन्होंने ये गोल करने में गलती नहीं की और टीम का खाता खोल दिया। इस गोल के बाद होस्ट टीम ने स्ट्रैटजी में बदलाव किया। गोल के 13 मिनट बाद उन्हें कामयाबी मिली और आंद्रेइ इओनेस्कू ने बॉल को मिनर्वा के बोल पोस्ट में पहुंचा दिया। अब बोर्ड पर स्कोर 1-1 था। मैच ड्रॉ की ओर बढ़ रहा था तभी इंजरी टाइम 90+5 मिनट में गीरिक खोसला ने गोल दागकर मिनर्वा को पहली हार का स्वाद चखा दिया।

Click to listen..