--Advertisement--

पीयू में आईफैक्टो की कॉल पर जुटे सभी यूनिवर्सिटीज और कॉलिजस के टीचर

पीयू में आईफैक्टो की कॉल पर जुटे सभी यूनिवर्सिटीज और कॉलिजस के टीचर

Danik Bhaskar | Dec 12, 2017, 03:06 PM IST

चंडीगढ़. ऑल इंडिया फेडरेशन ऑफ यूनिवर्सिटी एंड कॉलेज टीचर्स आर्गेनाईजेशन और पंजाब फेडरेशन ऑफ यूनिवर्सिटी एंड कॉलेज टीचर्स ऑर्गनाइजेशन की कॉल पर मंगलवार को पंजाब यूनिवर्सिटी में जुटे नार्थ रीजन की सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की टीचर्स।

इन दिनों एग्जाम की वजह से टीचर्स डे परेड ग्राउंड को अपने धरने के लिए चुना ताकि स्टूडेंट्स डिस्टर्ब ना पहले पंजाब के साथ-साथ चंडीगढ़ के सभी कॉलेजों में प्रोटेस्ट रैलियां होनी थी टीचर्स मिनिस्ट्री ऑफ ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट की ओर से 2 नवंबर को जारी नोटिफिकेशन में बदलाव की मांग कर रहे हैं।

इसके अनुसार केंद्र सरकार ने सातवां वेतन आयोग लागू करने के लिए हर बार दी जाने वाली मदद की बजाय अपनी मदद कम कर दी है। जब भी नया वेतन आयोग लागू होता है तो केंद्र सरकार 80 फीसदी तक वेतन 51 महीनों के लिए देती है लेकिन इस बार यह मदद 39 महीनों के लिए होगी।

जिससे राज्यों को नया वेतनमान लागू करने में 50 फीसदी आर्थिक मदद ही हो पाएगी इसके अलावा नोटिफिकेशन में बहुत सारी चीजों और पदों को दरकिनार कर दिया गया है।

अंडर ग्रेजुएट कॉलेजों के प्रिंसिपलों की पोस्ट लोअर कर दी गई है जिसके बाद आने वाले टाइम में हायर एजुकेशन का लेवल और भी नीचे जाएगा।

टीचर्स एसोसिएशन से प्रो डॉ रमन सिंह, प्रो मुकेश सिंह डॉ विनय सोफत और प्रो राकेश महिंद्रा ने अपने विचार रखें।