--Advertisement--

राणा गुरजीत सिंह का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है: सीएम

राणा गुरजीत सिंह का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है: सीएम

Dainik Bhaskar

Jan 18, 2018, 12:37 PM IST
राणा ने पिछले दिनों सीएम कैप्ट राणा ने पिछले दिनों सीएम कैप्ट

चंडीगढ़. सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस प्रेसिडेंट राहुल गांधी के बीच गुरुवार को दिल्ली में मीटिंग हुई। इसके बाद कैप्टन ने बताया कि पंजाब कैबिनेट में मंत्री राणा गुरजीत सिंह का इस्तीफा मंजूर कर लिया है। बता दें कि राणा के पास ऊर्जा और सिंचाई विभाग की जिम्मेदारी थी। पिछले दिनों रेत खदानों के अलॉटमेंट में गड़बड़ी के आरोप लगने पर उन्होंने 15 दिन पहले सीएम अमरिंदर सिंह से इस्तीफे की पेशकश की थी। दूसरी ओर, राणा के बेटे से भी ईडी ने मंगलवार को पूछताछ की थी।

राहुल ने की पंजाब सरकार के कामकाज पर चर्चा

- पंजाब कांग्रेस के प्रमुख सुनील जाखड़ ने DainikBhaskar.com से कहा, ''कांग्रेस प्रेसिडेंट के साथ अमरिंदर सिंह की मीटिंग करीब ढाई घंटे चली। इसमें पंजाब सरकार के 10 महीने के कामकाज पर चर्चा हुई। इसी दौरान राहुल गांधी ने कहा कि राणा गुरजीत का इस्तीफा मंजूर किया जाए। साथ ही कैबिनेट विस्तार को लेकर भी बात हुई।''

राणा गुरजीत सिंह पर क्या आरोप हैं?

- पिछले दिनों राणा गुरजीत और उनके परिवार से जुड़ी कुछ कंपनियों का नाम रेत खनन आवंटन की गड़बड़ियों में सामने आया। पंजाब की रेत खदानों की नीलामी में राणा पर आरोप है कि उन्होंने मनमाने तरीके से अपनी कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए खदानों की नीलामी की।

- कांग्रेस सरकार के मंत्री पर सीधे आरोप लगने के बाद विपक्ष उनके खिलाफ लगातार हमला बोल रहा था। आम आदमी पार्टी नेता सुखपाल खैरा ने कई कार्यक्रमों में राणा और कैप्टन सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा था कि हम राणा के खिलाफ सीबीआई जांच के लिए कोर्ट जाएंगे।

राणा के बेटे से ईडी ने की थी 6 घंटे पूछताछ

- 17 जनवरी को ईडी ने मंत्री बेटे राणा इंद्र प्रताप से फेमा एक्ट के उल्लंघन में 6 घंटे तक पूछताछ की। राणा के बेटे पर आरोप है कि उनकी कंपनी राणा शूगर्स लिमिटेड के नाम पर विदेश में शेयरों या जीडीआर (ग्लोबल डिपॉजिटरी रिसीट) के तौर पर करीब 100 करोड़ रु. जुटाए।

- ईडी अफसरों ने दावा किया है कि राणा शूगर्स ने शेयरों की खरीदफरोख्त के दौरान आरबीआई की मंजूरी नहीं ली।

मंत्री राणा ने इस्तीफे के बाद क्या कहा?

- राणा गुरजीत ने मंगलवार को DainikBhaskar.com से कहा था, "अपने खिलाफ लगे झूठे आरोपों से बेहद आहत हूं। नहीं चाहता की इससे सीएम की बदनामी हो। इसीलिए मैंने इस्तीफे की पेशकश की, इस पर सीएम और कांग्रेस प्रेसिडेंट फैसला लेंगे।''

X
राणा ने पिछले दिनों सीएम कैप्टराणा ने पिछले दिनों सीएम कैप्ट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..