Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» Boyfriend Killed A Woman, Body Of 22-Year-Old Woman Found In Park

प्रेमी ने मामा और भाई के साथ मिल दी थी शादीशुदा प्रेमिका को ऐसी दर्दनाक मौत

प्रेमी ने मामा और भाई के साथ मिल दी थी शादीशुदा प्रेमिका को ऐसी दर्दनाक मौत

vikas sharma | Last Modified - Dec 08, 2017, 05:04 PM IST

प्रेमी ने मामा और भाई के साथ मिल दी थी शादीशुदा प्रेमिका को ऐसी दर्दनाक मौत

जालंधर. स्पोर्ट्स एंड सर्जिकल कांप्लेक्स पार्क में 5 दिसम्बर की रात मर्डर कर जलाई गई युवती के कातिलों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक, युवती की हत्या उसके प्रेमी ने अपने भाई और मामा के साथ मिलकर की थी। युवती शादीशुदा थी और कुछ दिन पहले ही आरोपी के संपर्क में आई थी।युवती की मां ने जूती और कपड़े से की थी बेटी की पहचान...


5 दिसम्बर को पुलिस को एक जली हुई लाश पार्क में मिली थी। लाश पूरी तरह जल गई थी, इसलिए उसे पहचानना मुश्किल हो रहा था। इसके बाद मृतक युवती की मां बबली देवी और भाई रविंदर ने टीवी पर दिखाई गई न्यूज से इसकी जानकारी मिली और उन्होंने पंजाबी जूती और कपड़े से अपनी बेटी के पहचान की थी। जलाई गई युवती दीपनगर की कविता थी। 22 साल की कविता अपने पीछे एक बेटी छोड़ गई है। वह गढ़ा के कन्यावाली में रमन कुमार लवला संग ब्याही थी।

मां ने बताई लड़की की प्रेम कहानी...

लड़की की पहचान हो जाने के बाद मां ने पुलिस को पूरी कहानी बताई। उन्होंने कहा कि शादी के बाद से बेटी की जिंदगी नरक बन गई थी। दामाद हर रोज पीटता था। एक महीने पहले कविता ने बताया था कि पति ने उसे खूब पीटा है। इस पर वह उसे लेकर घर गई थी। २७ नवंबर को दीप नगर में रहते मामा अश्विनी की बेटी की मैरिज में फिल्लौर से विशाल आया था। विशाल मामी गीता की बहन रेखा का बेटा है। दोनों में दोस्ती हो गई थी। मां मानती है कि बेटी विशाल के करीब आई गई थी। विशाल रोज गली में आकर चक्कर मारता था। २ दिसंबर की बात है कि कविता को मां और भाई ने फोन पर विशाल से बातें करते देख उसका मोबाइल छीन लिया था।

मां का कहना है कि 3 दिसंबर की दोपहर वह काम से लौटी थी तो देखा कि विशाल गली में खड़ा था और उसकी बाइक साइड पर लगी थी। इस बीच देखा कि कविता उसके साथ जाने लगी। उन्होंने रोक कर कहा कि बेटी का मैं क्या करूंगी, तो वह बैग में कपड़े रख उसे साथ ले गई। थोड़ी देर बाद लौट आई। मां ने कहा कि हमने समझा शायद बेटी समझ गई है कि ऐसा करने से बदनामी होगी। कविता ने बेटी को बैड पर बैठाकर एक नजर देखा और तुरंत विशाल की बाइक पर बैठकर निकल गई। उसी दिन से विशाल का मोबाइल बंद आने लगा था। कविता को ढूंढने के लिए वह फिल्लौर गईं पर वह नहीं मिली। अपने स्तर पर दोनों के परिवार तलाश में जुटे थे।


कविता पीछे पड़ गई थी, इसलिए मार डालाः आरोपी विशाल


इसके बाद विशाल की खोज में जुटी पुलिस को उसका का मोबाइल बंद मिला था। इसके बाद गुप्त सूचना के आधार पर विशाल को फगवाड़ा के एक प्राइवेट अस्पताल से हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। विशाल हेपेटाइटिस-सी से पीड़ित है। पूछताछ में विशाल ने बताया कि उसने ही अपने भाई राजन और मामा रमन के साथ कविता की पहले गला घोंटकर हत्या की। फिर पेट्रोल डाल आग लगा दी थी। पुलिस ने आरोपी विशाल के साथ-साथ मामा रमन को गिरफ्तार कर लिया। भाई राजन फरार है। विशाल ने पुलिस को बताया कि कविता से वह संबंध रखना चाहता था, लेकिन वह गले ही पड़ गई थी। इसलिए वह वारदात वाले दिन उसे मामा के घर लेकर गया था। वहीं, पर उसकी हत्या की प्लानिंग की और भाई के साथ मिलकर तीनों ने पहले पार्क में उसकी गला दबाकर हत्या की और डेड बॉडी को जला दिया।

पति बोला- हमारी मैरिड लाइफ में दखल देते थे ससुराली


पेशे से ड्राइवर कविता के पति रमन उर्फ लवला ने बताया कि मार्च 2014 में कविता से शादी के बाद एक बेटी हुई थी। आम परिवारों की तरह हमारे बीच भी कहासुनी होती थी पर सास और साले यह बात नहीं समझते थे। वह हमारी मैरिड लाइफ में दखल देते थे। पत्नी गलतियां करती थी तो वह माफ कर देता था। एक महीने पहले सास कविता को अपने साथ ले गई। 3 दिसंबर को उसे फोन आया तो वह ससुराल घर गया था। यहां पर सास ने कहा कि कविता किसी के साथ चली गई है। इसलिए वह अपनी बेटी को ले जाए। लवला ने कहा, मेरे पापा नहीं हैं। इसलिए बिना चाचा से सलाह किए वह कोई फैसला नहीं ले सकता। लवला बोला, कविता उसे बहुत बड़ा सदमा दे गई है।


आगे की स्लाइड्स में देखें तस्वीरें...




दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Chandigarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: paark mein mili laash ka khulaa raaj, shaadishudaa premika ko premi ne di thi dardnaak maut
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×